नवीनतम लेख

गोवर्धन थाने में तैनात दरोगा राजकुमार, और सिपाही धर्मेंद्र को किया सस्पेंड

न्यूज़ समय तक मथुरा –एक्शन में कप्तान, कार्रवाई से पुलिस विभाग में मचा हड़कंपCM योगी के तेजतर्रार IPS ShaileshP_IPS ने लापरवाह पुलिस कर्मियों पर की बड़ी कार्रवाई गोवर्धन दर्शन करने आए कोलकाता के श्रद्धालुओं के साथ बदसलूकी और मारपीट करने वाले पर एक्शन गोवर्धन थाने में तैनात दरोगा राजकुमार, और सिपाही धर्मेंद्र को किया सस्पेंड मथुरा में बांके बिहारी और गोवर्धन के दर्शन करने वालों से दुर्व्यवहार नहीं होगा बर्दाश्त.. एसएसपी शैलेश पांडे कप्तान शैलेश पांडे की कार्रवाई के बाद जिले में मचा हड़कंप।

कानपुर नगरदंडवत यात्रा पर बरसे पुष्प

कानपुर नगरदंडवत यात्रा पर बरसे पुष्प

न्यूज़ समय तक कानपुर: करोली शंकर महादेव आश्रम की ओर से नशा मुक्ति, बलि प्रथा के विरोध में निकाली गई दंडवत यात्रा का श्रद्धालुओं ने फूलों की वर्षा कर स्वागत किया। दूसरे दिन यात्रा बाबू पुरवाई से शुरू होकर किदवई नगर होते हुए यशोदा नगर पहुंची और वहीं विश्राम किया। इस दौरान करौली शंकर महादेव ने कहा कि गंगा की तरह ही आप सभी को अपने मन को भी पवित्र बनाना है। न छल और न ही कपट मन में रखना है। जिसका मन निर्मल होता है दोष रहित होता है प्रभु की प्राप्ति भी उसे ही होती है। उन्होंने कहा कि हमें बलि प्रथा का विरोध करना है, लोगों को शराब, सिगरेट, बीड़ी, पान- तंबाकू आदि के सेवन से रोकना है। तभी हमारा भारत शोक मुक्त और रोग मुक्त बनेगा। किसी के प्रति अपने मन में द्वेष का भाव नहीं रखना है। सब सुखी हों , सब तरक्की करें ऐसा भाव अपने मन में रखें और लोक कल्याण की भावना के साथ हर काम करें। यह परमपूज्य बाबा जी का भी संदेश है इसे सबको आत्मसात करना है। इस अवसर पर प्रमुख रूप से शंकर सेना के प्रदेश अध्यक्ष श्री सुबोध चोपडा, महिला अध्यक्षा श्रीमती मीना द्विवेदी, विनय वर्मा, दुर्गेश मनी त्रिपाठी, आयुष द्विवेदी, मनोज तिवारी, पवन तिवारी, श्री प्रकाश श्रीवास्तव रमेश बाजपेई आदि रहे

पत्रकारों की सुरक्षा एवं पत्रकार सुरक्षा कानून को लेकर जेसीआई ने भरी हुंकार

पत्रकारों की सुरक्षा एवं पत्रकार सुरक्षा कानून को लेकर जेसीआई ने भरी हुंकार

कानपुर पत्रकारों को बेवजह प्रताड़ित किया जाता है – अशोक कुमार झा डिजिटल मीडिया के पत्रकारों को भी सम्मान मिलना चाहिए – कुणाल भगत पत्रकार हितों की सुरक्षा के लिए हमारी लड़ाई जारी रहेगी – राष्ट्रीय अध्यक्ष पत्रकार हितों के लिए पत्रकारों को एकजुट होकर लड़ाई लड़नी होगी – राष्ट्रीय संयोजक आज पत्रकार सुरक्षा कानून को लेकर जर्नलिस्ट काउंसिल आफ इंडिया द्वारा एक वर्चुअल मीटिंग की गई जिसमें जर्नलिस्ट कॉउंसिल ऑफ़ इंडिया के पदाधिकारीयों ने बड़ी मात्रा में हिस्सा लिया और अपने विचार व्यक्त किये पदाधिकारीयों का कहना था कि सरकार पत्रकारों के हित को नजरअंदाज कर रही है यही कारण है कि विभिन्न स्तरों पर पत्रकारों का शोषण किया जा रहा है जिसके लिए जर्नलिस्ट काउंसिल आफ इंडिया लड़ाई लड़ता रहेगा और जब तक पत्रकार सुरक्षा कानून लागू नहीं हो जाता तब तक पत्रकार शांत नहीं बैठेंगे।इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष डाॅ0 अनुराग सक्सेना ने कहा कि सरकार को डिजिटल मीडिया को मान्यता दे देना चाहिए और उसका पंजीकरण करना चाहिए प्रिंट मीडिया के लिए ई पेपर की मान्यता देना अति आवश्यक है तथा क्षेत्रीय पत्रकारों के लिए भी सरकार को कुछ कारगर कदम उठाने चाहिए ताकि वह सम्मान की जिंदगी जी सके।राष्ट्रीय संयोजक डॉ0 आर सी श्रीवास्तव ने कहा कि बिना आवाज़ उठाएं और बिना अपने हक की लड़ाई लड़े हमें अपने हक मिलने वाले नहीं है इसलिए सभी को एक होकर अपने हक की लड़ाई लड़नी चाहिए।वरिष्ठ पत्रकार एवं राष्ट्रीय पदाधिकारी श्री अशोक झा ने बताया कि पत्रकारों के ऊपर बेवजह मुकदमे दर्ज करके उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है जो किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।इस अवसर पर पदाधिकारी मध्यप्रदेश के संयोजक हरिशंकर पाराशर ने कहा कि पत्रकारों के प्रति सरकार की उदासीनता पत्रकारों में आक्रोश पैदा कर रही है इसलिए हम सभी को एक होकर अपनी लड़ाई लड़नी चाहिए।बिहार इकाई के संयोजक कुणाल भगत ने कहा कि सरकार प्रिंट मीडिया के क्षेत्रीय पत्रकार एवं डिजिटल मीडिया के पत्रकारों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है जो किसी भी मामले में उचित नहीं है।वरिष्ठ पदाधिकारी बी त्रिपाठी ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि अब समय आ गया है कि पत्रकारों को अपनी लड़ाई लड़ने के लिए उठ खड़े होना चाहिए और यह लड़ाई तब तक जारी रहनी चाहिए जब तक सरकार पत्रकारों के हित में कोई कानून नहीं ले आती है।वरिष्ठ पत्रकार एवं पदाधिकारी राजा अवस्थी ने कहा कि पत्रकारों की उपेक्षा से पत्रकार आहत है और अपनी लड़ाई लड़ने को बाध्य है इसलिए आवश्यकता है कि छोटे-बड़े की भावना छोड़कर सभी को एक साथ खड़े होकर अपने हक की लड़ाई लड़नी चाहिए।इस प्रकार से करीब दो दर्जन लोगों ने पत्रकार सुरक्षा कानून को लेकर अपने विचार व्यक्त किया और सभी का मानना था कि कोई भी राजनीतिक दल पत्रकारों के हित के लिए बात नहीं करता जबकि हर स्तर पर उनसे फायदा उठाता है जो सरासर गलत है यदि ऐसा ही रहा तो जर्नलिस्ट कॉउंसिल ऑफ़ इंडिया बृहद स्तर पर पत्रकारों के हक और हुकुक को लेकर संघर्ष करेगी और यह संघर्ष तब तक जारी रहेगा जब तक पत्रकारों के हित में और पत्रकारों के लिए कोई आदर्श कानून नहीं बन जाता। पत्रकार प्रताड़ित किया जा रहे हैं उनके ऊपर झूठे मुकदमे लिखा जा रहे हैं परंतु सरकार एवं अधिकारी कान में तेल डालकर बैठे हैं जो किसी भी तरीके से उचित नहीं है पत्रकारों के ऊपर कोई भी मुकदमा दर्ज करने से पहले किसी राजपत्रित अधिकारी द्वारा इसकी छानबीन करनी चाहिए और जब वह दोषी पाया जाए तभी उनके ऊपर मुकदमा दर्ज किया जाए पत्रकारों के लिए अलग कानून बनाए जाएं और उसमें सभी पंजीकृत पत्रकार संगठनों की भी सलाह ली जाए ताकि पत्रकार भी इज्जत की जिंदगी जी सके पत्रकार परेशानियों का ध्यान दिए बिना निरंतर अपना कार्य करते रहते हैं और फिर भी वह अपने को असुरक्षित महसूस करते हैं जो किसी न किसी तरीके से सरकार की गलत नीतियों और उपेक्षा के कारण है। इस वर्चुअल मीटिंग के दौरान झारखंड की संयोजक अंशिका ओझा, डा0 अम्मार आब्दी, सहित अन्य पत्रकार साथी भी मौजूद रहे ।

बाइक सवार दो युवकों ने झपट्टा मार फोन लेकर हुए विलुप्त

ब्रेकिंग कानपुर के थाना रावतपुर अंतर्गत

बाइक सवार दो युवकों ने झपट्टा मार फोन लेकर हुए विलुप्त

न्यूज़ समय तक कानपुर के सीपी अखिल कुमार जी के सख्त पुलिसिंग के बाद भी मोबाइल स्नेचरो में नही है डर।आपको बताते है की मध्य रात्रि की घटना एक व्यक्ति जो की सीतापुर का था वो छपेड़ा पुलिया से केशव पुरम रोड पर 📱 फोन से बात करते हुऐ जा रहा था तभी एक बाइक पर सवार दो युवकों ने झपट्टा मारकर उसका फोन छीन कर हुए फरार।👉पीड़ित युवक का कैहना है की जब तक हम कुछ समझ पाते तब तक वो फुर्र हो गए।पीड़ित ने अपना फोन vivo ko बताया।👉कुछ कहावत सही कही गई है..अतिथि देवो भव. स्नेचर का कैहना है की फोन हमे देवो.

रामकथा पार्क में निधि के नृत्यों की स्तुतियो ने मोहा

अयोध्या: रामकथा पार्क में निधि के नृत्यों की स्तुतियो ने मोहा

न्यूज़ समय तक रामकथा पार्क में हुई त्रियुगीनाथ की स्तुति,राजस्थान,उत्तराखंड और कथक के रंग में रंगा रामकथा पार्क*मनोज तिवारी ब्यूरो चीफ अयोध्याप्राण प्रतिष्ठा के उल्लास से सराबोर अयोध्या के राम कथा पार्क में बीती शाम लखनऊ से आए गुलशन चौधरी और उनके कलाकारों ने राम भजन गाकर सभी को रामरस का आस्वादन करा दिया। जपता है श्री राम की माला गाकर सभी किनास्था और उसके बाद नगरी हो अयोध्या सी गाकर उन्होंने श्रद्धालुओं अयोध्या के वैभव के दर्शन करा दिए। इसी भाव में मानस की चौपाइयां राम सिया राम जय जय राम गाकर सभी को साथ देने पर विवश कर दिया।अगली प्रस्तुति में कथक घराने का प्रतिनिधित्व करते हुए अनेश रावत के दल राम स्तुति पर कथक नृत्य करके सभी को भावुक कर दिया उसके बाद राम वंदना करके पूरे वातावरण में भक्ति का माहौल घोल दिया। इन्हीं कलाकारों ने राम रावण युद्ध के प्रसंग को लंका कांड की चौपाइयों के साथ जब प्रस्तुत किया तो सभी दर्शक अपलक प्रस्तुति को देखते ही रह गए। *तालियों की गूंज में*उत्तराखंड के कलाकारों ने आशुतोष नौटियाल के निर्देशन में बधाई नृत्य प्रस्तुत करके उत्तराखंड की परंपरा दिखाई तो उसी के साथ भगवान त्रियुगी नारायण की स्तुति करके तीनों लोकों में व्याप्त परमात्मा से सभी के मंगल की कामना की। सृष्टि, पिंगला और सुषमा तीन पीढ़ियों का प्रतिनिधित्व करती हुई कलाकारों ने मंच पर संस्कारो की एक आभा सी बिखेर दी और सभी इन कलाकारों के उत्साह और प्रदर्शन पर वाह वाह कर उठे।ढलती शाम के साथ चरम पर पहुंचते हुए कार्यक्रम में मंच पर मोहिनी द्विवेदी और उनके साथी कलाकारों ने एक के बाद एक राम भजन प्रस्तुत करके श्रोताओं को अपने साथ नृत्य करने पर विवश कर दिया । नगरी हो अयोध्या सी और उसके बाद आज मिथिला नगरिया निहाल सखिया गाकर सभी को प्रभु राम की मोहनी सूरत के दर्शन कर दिए। अभी श्रोता इससे उबर ही नही पाए थे तब तक उन्होंने राम जी से पूछे जनकपुर के नारी गाकर भगवान श्री राम को जन-जन के राम बनाते हुए दर्शकों के उल्लास से परिचित कराया। पद्मश्री अनूप जलोटा की शिष्या मोहिनी द्विवेदी ने प्राण प्रतिष्ठा के अनुरूप धनी धनी चैत्र महिनवा और दशरथ के भइले ललनवा जैसे पारंपरिक सोहर गाकर सभी को मुग्ध कर दिया।राजस्थान से आए हीरा नाथ के दल की नृत्यांगनाओं ने मंच पर नृत्य करते हुए आंखो की पुतली से दो अंगूठियां उठा कर सभी को हतप्रभ कर दिया।सभी विस्मय से चकित होकर तालियां बजा कर पारंपरिक लोक नृत्य और कलाकारो का सम्मान कर रहे थे। राजस्थान की स्वरलहरियां और पोषक ने सभी को मानो लुभा लिया था।लखनऊ से आई निधि श्रीवास्तव के दल के कलाकारो ने इसके बाद मंच पर शास्त्रीय और लोक नृत्यों के अनूठे प्रयोग से गणेश वंदना और शिव स्तुति करके मंच पर गणपति और शिव के साक्षात दर्शन करा दिए।राम स्तुति में लोक का निश्चल रूप प्रस्तुति के छलक कर बाहर आ रहा था। कलाकारो के प्रदर्शन ने सभी को अभिभूत कर दिया।अंतिम प्रस्तुति उज्जैन से आए लोकगुंजन दल ने को।राजस्थानी लोक गीतों नाच बनी पर सर पर घड़े में आग रखकर किया गया नृत्य और फिर समूह में चिरमी के बोलो पर नृत्य ने पूरे पांडाल को तालियों से गुंजा दिया।कार्यक्रम का संचालन अपने विशिष्ट अंदाज में आकाशवाणी के उद्घोषक देश दीपक मिश्र ने किया। कलाकारो का सम्मान कार्यक्रम समन्वयक अतुल कुमार सिंह ने स्मृति चिह्न प्रदान करके किया।इस अवसर पर शिवांश त्रिवेदी,नाथूराम,राकेश,इंद्रा,अनामिका,अनुष्का,अभय सिंह समेत संतजन और दर्शक उपस्थित रहे।

लॉकडाउन मन की बात पुस्तक का लोकसभा दिल्ली में हुआ विमोचन

,

न्यूज़ समय तक लॉकडाउन मन की बात पुस्तक का लोकसभा दिल्ली में हुआ विमोचन,आम जनमानस की कठिनाइयों और संघर्षों से जुड़े अनुभवों का अद्भुत संकलन है ” लॉक डाउन मन की बात”: संयुक्त सचिव,लोकसभा👉पुस्तक पर संयुक्त सचिव ने लिखी मन की बात, सौरभ और साथियों के कार्य को जमकर सराहा👌कोरोना काल में आम जन की कठिनाइयों और संघर्षों से जुड़े अनुभवों का अद्भुत संकलन है ” लॉक डाउन मन की बात”,लोकतंत्र के मंदिर देश की राजधानी नई दिल्ली में भारत की लोकसभा के सचिवालय में कानपुर के वरिष्ठ पत्रकार सौरभ ओमर द्वारा संपादित पुस्तक लॉक डाउन मन की बात के विमोचन अवसर पर यह बात सचिवालय के संयुक्त सचिव राजेश रंजन कुमार ने कही।उन्होंने पुस्तक की सफलता की शुभकामनाएं दीं और सौरभ ओमर व उनके साथियों को बधाई देते हुए कहा कि पुस्तक के माध्यम से कोरोना त्रासदी और उस दौरान लगाए गए लॉक डाउन को लेकर देश भर के विद्वान जनों के विचारों को संकलित करने का रचनात्मक कार्य किया गया है।उन्होंने कहा कि लोकसभा लाइब्रेरी में भी इस पुस्तक को रखा जायेगा।यहां आने वाले विद्वान इसे पढ़ सकेंगे।इस अवसर पर सेंट्रल प्रेस क्लब की तरफ से सौरभ ओमर और गगन सेठी ने संयुक्त सचिव को स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया। विमोचन के उपलक्ष्य में सौरभ ओमर,ग्रंथ के सहायक संपादक गगन सेठी और सलाहकार संपादक राजेश विक्रांत का विद्वतजनों ने अभिनंदन भी किया। गौरतलब है कि सौरभ ओमर द्वारा संपादित ‘लॉकडाउन: मन की बात’ कोरोनाकाल के दौरान देश विदेश के लोगों के अनुभव, संघर्ष, जिजीविषा व महामारी के खिलाफ जीतने की महागाथा है। इस अंतर्राष्ट्रीय ग्रंथ के प्रणयन के जरिए पत्रकार सौरभ ओमर ने बड़ा रचनात्मक कार्य किया है।वह पत्रकारिता कोश (लिम्का बुक रिकार्ड होल्डर/ देश की प्रथम मीडिया डायरेक्टरी) के कानपुर सूचना ब्यूरो के होने के अलावा अत्यंत सक्रिय पत्रकार हैं। उन्होंने विमोचन के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि कोरोना वायरस की रिपोर्टिंग के दौरान मैंने प्रण किया था कि हम इसके रचनात्मक पहलुओं को एक पुस्तक के रूप सामने लाएंगे। ये महामारी चीन से उभरी और मार्च 2020 तक इसने तकरीबन सारी दुनिया को अपने शिकंजे में ले लिया। उसी समय कोरोनाकाल से निपटने के लिए लॉकडाउन लगाया गया। इस लॉकडाउन के इफेक्ट पॉजिटिव व निगेटिव दोनों रहे। इसी लॉकडाउन काल में इस पुस्तक पर काम शुरू हुआ। कोरोनाकाल व लॉकडाउन पर देश- विदेश के लोगों के अनुभव, आपबीती, लेख, समाचार, रिपोर्ताज, कथा- कहानी, कविताएं, व्यंग्य आदि शामिल किए गए हैं। इसमें देश विदेश की नामचीन विभूतियों के विचार व शुभकामनाएं हैं। नई दिल्ली के चित्रकार पंकज तिवारी ने इसका कवर बनाया और कानपुर के चन्द्रलोक प्रकाशन ने इसे प्रकाशित किया है।इस अवसर पर लोकसभा सचिवालय में प्रमुख रूप से लोकसभा सचिवालय के संयुक्त सचिव राजेश रंजन कुमार, कार्यालय के पीएस किशोर कुमार, लॉक डाउन पुस्तक के संपादक सौरभ ओमर, वरिष्ठ स्तंभकार राजेश विक्रांत, विश्व हिंदू महासमिति के राष्ट्रीय संघठन मंत्री मंगेश कनौजिया चौधरी, वरिष्ठ पत्रकार गगन सेठी, अजय पत्रकार, कार्तिक कनौजिया आदि विभूतियां उपस्थित रहीं।

खाली प्लाट में मिला नरमुंड कंकाल और हड्डियां

न्यूज़ समय तक

कानपुर ब्रेकिंग—दामोदर नगर स्थित खाली प्लाट में मिला नरमुंड ,कंकाल और हड्डियांनरमुंड और कंकाल मिलने से क्षेत्र में दिखा अफरातफरी का माहौलखाली प्लाट में पड़े नरमुंड और कंकाल देखने को लेकर लोगों की इक्कठी हुई भीड़बर्रा थाना क्षेत्र के दामोदर नगर स्थित वैष्णो देवी मंदिर के सामने का है पूरा मामला मौके पर बर्रा थाना की पुलिस ने पहुच कर लोगो से बातचीत कर मामले की छानबीन की शुरू

साधुवेशधारी भू माफियाओं के विरुद्ध संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज

अयोध्या:——–*साधुवेशधारी भू माफियाओं के विरुद्ध संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज**पीड़ित चतुर्भुज दास उर्फ चन्दाबाबा ने सूबे के मुख्यमंत्री व एस एस पी से की आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग*मनोज तिवारी ब्यूरो चीफ अयोध्या सूत्रों के मुताबिक चारसौबीसी जालसाजी धोखाधड़ी कर कूट रचित दस्तावेज तैयार कर मंदिर के मृतक पुजारी बजरंग दास चेला बलराम दास का फर्जी हस्ताक्षर बना कर मंदिर की संपत्ति कब्जा करने की साजिश रची थी और जब पीड़ित चन्दाबाबा ने आलाअधिकारियों से शिकायत की तो सत्ता पक्ष के दबाव में उनकी फरियाद नही सुनी गई तो न्यायालय से न्याय की गुहार लगाई माननीय न्यायालय ने सबूतों और साक्ष्यों के आधार पर साधुवेशधारी भू माफियाओं के खिलाफ चारसौबीसी जालसाजी धोखाधड़ी तथा आपराधिक साजिश रचने जैसी संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज करने का आदेश कैंट थाने के प्रभारी निरीक्षक को दिया तब जाकर मंदिर की संपत्ति कब्जा करने व अपराधिक साजिश रचने जैसी गम्भीर धाराओं में अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्री आमिर सुहेल की अदालत ने कैंट थाने में मुकदमा दर्ज करने का आदेश थाना प्रभारी को दिया है जिसके अनुपालन में पीड़ित महन्थ चतुर्भुज दास उर्फ चन्दाबाबा पंचमुखी हनुमान मंदिर निवासी सदर बाजार कैंट थाना निवासी के द्वारा दी गयी तहरीर पर मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है जिसमे आरोपी गण अयोध्या जानकीघाट निवासी राम बल्लभाकुंज के बहुचर्चित अधिकारी राज कुमार दास चेला देव राम दास बेदान्ती व मणि राम दास छावनी के श्रीमहंत नृत्य गोपाल दास महराज के उत्तराधिकारी महन्थ कमल नयन दास व महन्थ विमल कृष्ण दास चेला कमल नयन दास निवासी पंचमुखी हनुमान मंदिर गुप्तारघाट अयोध्या व उनके सहयोगी वीरेंद्र नाथ राय पुत्र केदारनाथ राय निवासी बेगमगंज गढ़ैया कोतवाली अयोध्या व संजय यादव पुत्र हरि शंकर यादव निवासी शिव कालोनी रेतिया कैंट अयोध्या के विरुद्ध धारा 420,467, 468,471,व 120बी आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज हुआ जिससे साधुवेशधारी भू माफियाओं में हड़कम्प मच गया है महन्थ चतुर्भुज दास उर्फ चन्दाबाबा ने इन सभी पर आरोप लगया है कि थाना कैंट अंतर्गत गुप्तारघाट स्थित लक्ष्मी नरसिंह मंदिर पर इन्ही आरोपियों के द्वारा गुंडागर्दी के बल पर अवैध कब्जा कर लिया गया तथा जानलेवा हमला भी कराया गया जिससे उनके हाथ पैर टूट गया था उनके हमले का वीडियो भी वायरल हुआ था चन्दाबाबा ने बताया कि आरोपी गण इतने शातिर है कि वे मृतक महन्थ सहित 10अन्य गवाहों के फर्जी हस्ताक्षर बना कर कूट रचित महज्जरनामा तैयार कर डिप्टी रजिस्टार कार्यालय में 26 दिसम्बर 2022 को रजिस्टर्ड करवा लिया था न्यायालय के एक्शन से आरोपियों में दहशत फैल गयी है पीड़ित चन्दाबाबा ने सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी महाराज व एस एस एस अयोध्या से अभियुक्तों की गिरफ्तारी कर जेल के सलाखो में भेजने की मांग की है।

28 फरवरी 2024 का दैनिक पंचांग आचार्य विनोद दीक्षित

न्यूज़ समय तक

आज का पंचांग • फरवरी 28, 2024आज का हिन्दू पंचांग हिंदी में: आज 28 फरवरी, 2024 बुधवार फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष चतुर्थी तिथि है | हिन्दू कैलेंडर और पंचांग से जाने आज का शुभ मुहूर्त, अशुभ समय और राहुकाल | लोकेशन kanpur (February 28, 2024) – फाल्गुन कृष्ण पक्ष चतुर्थी, अनला संवत्सर विक्रम संवत 2080, शक संवत शोभकृत 1945, माघ |आज है संकष्टी गणेश चतुर्थी|आज चतुर्थी तिथि 04:18 AM तक उपरांत पंचमी | नक्षत्र हस्त 07:33 AM तक उपरांत चित्रा | गण्ड योग 05:17 PM तक, उसके बाद वृद्धि योग | करण बव 03:08 PM तक, बाद बालव 04:19 AM तक, बाद कौलव | आज राहु काल का समय 12:39 PM – 02:05 PM है | आज 09:00 PM तक चन्द्रमा कन्या उपरांत तुला राशि पर संचार करेगा |

कारखास के मकड़ जाल में उलझा थरियांव

न्यूज़ समय तक बिग ब्रेकिंग।

कारखास के मकड़ जाल में उलझा थरियांव

चोरी की घटनाओं का खुलासा नहीं होने से क्षेत्र में हो रही आपराधिक घटनाओं का तेजी से बढ़ता जा रहा ग्राफ

नए प्रभारी की कमान संभालने के बाद भी
सिर्फ आश्वासन के दम पर चल रहा थाना

थरियांव थाना क्षेत्र के थरियांव कस्बे में हुई लाखो रुपेए की चोरी वारदात ।

सोने और चांदी के आभूषणों के साथ नगदी भी लेगाऐ चोर ।

पुलिस चोरों को पकड़ने में नाकामयाब दिखाई पड़ रही है।

चोरी की घटना को छिपाने में लगे थरियांव थाने के चार बड़े सुरमा
अपराधियों को बचाने मे भी निभाते बड़ा योगदान