गुरूवार, फ़रवरी 29, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमताजा खबरउत्तर प्रदेशस्वच्छकारों के पुनर्वास से संबंधित राज्य स्तरीय निगरानी समिति की हुई बैठक...

स्वच्छकारों के पुनर्वास से संबंधित राज्य स्तरीय निगरानी समिति की हुई बैठक में अध्यक्ष असीम अरुण ने दिए निर्देश

न्यूज ऑफ इंडिया (एजेन्सी)

न्यूज़ समय तक लखनऊ: 12 दिसम्बर, 2023

निदेशालय समाज कल्याण भवन, प्राग नरायन रोड, लखनऊ में मंगलवार को राज्य स्तरीय निगरानी समिति की बैठक हुई। समाज कल्याण विभाग के माननीय राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) असीम अरुण की अध्यक्षता में बैठक संपन्न हुई। बैठक में स्वच्छकारों के पुनर्वासन को लेकर समिति के अध्यक्ष एवं माननीय राज्यमंत्री ने समीक्षा की। उन्होंने स्वच्छकारों को उपलब्ध करवाए जाने वाले सुरक्षा किट व आधुनिक उपकरणों की स्थिति के बारे में भी जानकारी ली।
’प्रभाव आंकलन के दिए निर्देश’
बैठक में माननीय राज्यमंत्री असीम अरुण ने समिति के सदस्यों को पुनर्वासन योजनाओं के प्रभाव आंकलन करने के निर्देश दिए। उन्होंने अभी तक 32,473 पुनर्वासित स्वच्छकारों को योजनाओं के अंतर्गत लाभ एवं पुनर्वासित किए जाने के संबंध में ग्राम्य विकास एवं नगर विकास के माध्यम से प्रभाव आंकलन के निर्देश दिए।
’आधुनिक मशीनों से सफाई करवाने पर दिया जोर’
समिति ने प्रदेश के समस्त जनपदों को मैनुअल से मुक्त करने तथा सीवर/सैप्टिक टैंक की खतरनाकर सफाई का कार्य आधुनिक मशीनों के द्वारा किए जाने के संबंध में विचार-विमर्श किया। इस हेतु ’नमस्ते योजना’ एवं सीवर/सैप्टिक टैंक की सफाई हेतु टोल फ्री नंबर 14420 एवं नगर निकायों हेतु टोल फ्री नंबर 1533 का प्रचार प्रसार करते हुए ऐसे सफाई कार्य मशीनों के माध्यम से करवाए जाने के निर्देश दिए गए। इसके साथ ही समिति द्वारा निजी कारणों से ऐसे सफाई कार्य में लगे श्रमिकों से समिति के सदस्यों एवं विभागीय अधिकारियों के माध्यम से व्यक्तिगत संपर्क कर परामर्श किए जाने के संबंध में भी निर्णय लिया गया। इससे सीवर/सैप्टकि टैंक की सफाई के कार्य में लगे हुए व्यक्तियों को आधुनिक टूल किट एवं प्रशिक्षण दिए जा सकें और उन्हें विभिन्न प्रोक्योरमेंट पॉलिसी में आवश्यक परिवर्तन कर उन्हें श्रमिक से उद्यमी बनाया जा सके।
’स्वच्छकारों को मिल रहा योजनाओं का लाभ’
बैठक के दौरान स्वच्छकारों को विभन्न विभागों को सरकार द्वारा चलाई जा रहीं योजनाओं, जिनमें छात्रवृत्ति योजना, आवास पेंशन, स्वरोजगार से लाभान्वित करवाए जाने के निर्देश दिए गए। समाज कल्याण विभाग द्वारा स्वच्छकार, अस्वच्छ पेशे में लगे हुए, खतरनाक सफाई के कार्य में लगे हुए व्यक्तियों, कूड़ा बिनने जैसे विभिन्न अस्वच्छ व्यवसाय में लगे हुए व्यक्तियों के बच्चों को पूर्वदशम छात्रवृत्ति योजना द्वारा रुपये 3500 वार्षिक प्रदान किया जा रहा है। इसी प्रकार अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम के माध्यम से स्वच्छकारों को रुपए 25000 से लेकर रुपए 15 लाख दिया जा रहा है।
बैठक के दौरान समिति के सदस्य श्याम धनी राही, विधायक, कपिलवस्तु, बंबा लाल दिवाकर, माननीय विधायक, सफीपुर, देवेन्द्र कुमार निम, माननीय विधायक, रामपुर मनिहारन (सहारनपुर), सुरेंद्र नाथ वाल्मीकि, अध्यक्ष, राज्य सफाई कर्मचारी आयोग, उत्तर प्रदेश, डॉ. हरिओम, प्रमुख सचिव, समाज कल्याण, समीर वर्मा, सचिव, समाज कल्याण, कुमार प्रशांत, निदेशक, समाज कल्याण के साथ सामाजिक कार्यकर्ता एवं पंचायती राज, नगर विकास, वित्त गृह आदि संबंधित विभाग के अधिकारी मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments

ए .के. पाण्डेय (जनसेवक )प्रदेश महा सचिव भारतीय प्रधान संगठन उत्तर भारप्रदेश पर महंत गणेश दास ने भाजपा समर्थकों पर अखंड भारत के नागरिकों को तोड़ने का लगाया आरोप