शुक्रवार, जून 14, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमताजा खबरउत्तर प्रदेशसंत रविदास मिशन के तहत नवीन राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय की स्थापना...

संत रविदास मिशन के तहत नवीन राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय की स्थापना के सम्बन्ध में बैठक संपन्न

न्यूज ऑफ़ इंडिया ( एजेन्सी)

न्यूज़ समय तक दिनांक: 10 जनवरी, 2024

लखनऊ: मुख्य सचिव की अध्यक्षता में संत रविदास मिशन के तहत नवीन राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय की स्थापना के सम्बन्ध में बैठक आयोजित की गई।
बैठक में मुख्य सचिव द्वारा संत रविदास मिशन के तहत जनपद शामली एवं बागपत में नवीन राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय स्थापित करने की संस्तुति की। प्रत्येक विद्यालय की स्थापना में 46 करोड़ रुपये व्यय संभावित है। इस विद्यालय की स्थापना जनपद बागपत की तहसील बड़ौत तथा जनपद शामली की तहसील ऊन में की जाएगी।
अपने संबोधन में मुख्य सचिव ने कहा कि नवीन राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय में विद्यार्थियों को नवोदय की तर्ज पर गुणवत्तापरक शिक्षा प्रदान करायी जाये। विद्यालय के निर्माण में विद्यार्थियों की समस्त जरूरतों का विशेष रूप से ध्यान दिया जाये, जिससे यहां प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों को अच्छा माहौल व आगे बढ़ने का मौका मिले।
मुख्य सचिव ने कहा कि नवीन राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय में विद्यार्थियों को नवोदय की तर्ज पर गुणवत्तापरक शिक्षा प्रदान करायी जाये। विद्यालय के निर्माण में विद्यार्थियों की समस्त जरूरतों का विशेष रूप से ध्यान दिया जाये, जिससे यहां प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों को अच्छा माहौल व आगे बढ़ने का मौका मिले।
बैठक में प्रमुख सचिव समाज कल्याण डॉ0 हरिओम ने बताया कि वर्तमान में 57 जनपदों में 94 जय प्रकाश नारायण सर्वोदय विद्यालय संचालित हैं। वर्तमान में 18 नवीन जय प्रकाश नारायण सर्वोदय विद्यालय निर्माणाधीन हैं और 02 (भदोही एवं मैनपुरी) विद्यालय हस्तान्तरित हो चुके हैं। वर्तमान में निर्माणाधीन कुल 45 ट्रांजिट हॉस्टल में से 20 ट्रांजिट हॉस्टल पूर्ण एवं हस्तान्तरित हो चुके हैं, शेष 25 ट्रांजिट हॉस्टल का कार्य प्रगति पर है।
उन्होंने बताया कि वर्तमान में 07 असेवित जनपद-मऊ, मुजफ्फरनगर, बागपत, शामली, कन्नौज, शाहजहांपुर, गौतमबुद्धनगर जहां विभाग द्वारा कोई भी जय प्रकाश नारायण सर्वोदय विद्यालय संचालित नहीं है। जनपद कन्नौज, शाहजहांपुर एवं गौतमबुद्ध नगर में नवीन सर्वोदय विद्यालय के निर्माण का प्रस्ताव पूर्व में समिति द्वारा स्वीकृत किया जा चुका है।
बैठक में प्रमुख सचिव समाज कल्याण डॉ0 हरिओम सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण आदि उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments