मंगलवार, मार्च 5, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमताजा खबरउत्तर प्रदेशविदेशी पर्यटकों के मामले में उ0प्र0 पहले स्थान पर स्थापित हो, इसके...

विदेशी पर्यटकों के मामले में उ0प्र0 पहले स्थान पर स्थापित हो, इसके लिए विशेष तैयारी-जयवीर सिंह

न्यूज ऑफ इंडिया (एजेन्सी)

न्यूज़ समय तक लखनऊ: दिनांक: 30 नवम्बर, 2023

उत्तर प्रदेश के महत्वपूर्ण ईको पर्यटन स्थलों की पूरी दुनिया में मार्केटिंग एवं ब्रान्डिंग कराने के लिए कल 01 दिसम्बर से यू0के0, संयुक्त राज्य अमेरिका, हालैण्ड तथा जर्मनी के 11 टूर एण्ड ट्रैवल आपरेटर्स की एक परिचय यात्रा की शुरूआत करायी जा रही है। यह भ्रमण यात्रा चम्बल वेटलैण्ड से शुरू होकर 08 दिसम्बर, 2024 को जनपद पीलीभीत के टाइगर रिजर्व में समाप्त होगी। इस यात्रा के दौरान टूर एण्ड ट्रैवेल आपरेटर ईको पर्यटन की दृष्टि से प्रदेश के चर्चित स्थलों की जैव विविधता तथा मनोरम दृश्यों से रूबरू होंगे।
यह जानकारी आज यहां प्रदेश के पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री जयवीर सिंह ने दी। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश ईको पर्यटन के मामले में विभिन्न विविधताओं से भरा हुआ है। इन स्थलों से विदेशी पर्यटकों को परिचित कराना है। भ्रमण के लिए आयी यह टीम अपने अनुभवों को दूसरे पर्यटकों के साथ साझा करेगी और उन्हें उत्तर प्रदेश के ईको पर्यटन के दृष्टि से महत्वपूर्ण स्थलों का भ्रमण करने के लिए जागरूक करेगी। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश के पास देशी-विदेशी सैलानियों को आकर्षित करने के लिए अपार क्षमता है। साथ ही बेहतर कनेक्टिविटी एवं उच्च स्तर की अवस्थापना सुविधाएं भी उपलब्ध हैं।
जयवीर सिंह ने बताया कि उत्तर प्रदेश घरेलू पर्यटन के मामले में देश में पहले स्थान पर है। राज्य सरकार का प्रयास है कि विदेश से आने वाले हर सैलानी का पहला कदम उत्तर प्रदेश की ओर, आए और विदेशी पर्यटन के मामले में भी उत्तर प्रदेश पहले स्थान पर स्थापित हो, इसलिए पर्यटन के संभावित सभी आयामों पर तेजी से काम हो रहा है। यहां ईको पर्यटन की असीम संभावनाएं है। इसलिए इन स्थलों का लगातर विकास किया जा रहा है और पर्यटक सुविधाओं में लगातार बढ़ोत्तरी की जा रही हैं।
पर्यटन मंत्री ने बताया कि देश-विदेश के पर्यटकों को इन स्थलों की ओर आकर्षित करने के लिए जरूरी है कि उन्हें इन स्थलों और यहां की खूबियों से परिचित कराया जाए। इन्हीं उद्देश्यों से पर्यटन विभाग फैन ट्रिप में सहयोग कर रहा है। उन्होंने बताया कि कल शुरू हो रही यात्रा सूरसरोवर, पक्षी विहार, इटावा लायन सफारी होते हुए राजधानी पहुंचेगी। यहां से विश्व प्रसिद्ध दुधवा नेशनल पार्क तथा कतरनिया घाट होते हुए 08 दिसम्बर को पीलीभीत टाइगर रिजर्व पहुंचेगी।
जयवीर सिंह ने बताया कि देशी-विदेशी सैलानी उ0प्र0 की ओर अधिक से अधिक आकर्षित हो सकें तथा यहां की हास्पिटेलिटी एवं अवस्थापना सुविधाओं का लाभ उठा सकें और अपने अनुभव को अपने देश में जाकर दूसरे लोगों से साझा कर सकें, इसके लिए पर्यटन विभाग ने परिचय यात्रा कराने की रणनीति अपनायी है। उ0प्र0 पर्यटन विविधताओं से भरा हुआ है। यहां पर कई यूनेस्को पर्यटन स्थल के अलावा धार्मिक एवं ऐतिहासिक महत्व के कई स्थल भी मौजूद हैं। उन्होंने बताया कि पर्यटन में रोजगार के अलावा प्रचुर मात्रा में निवेश की महती सम्भावनाएं हैं। इसका अधिकतम दोहन करने के लिए पर्यटन विभाग ईको पर्यटन पर विशेष जोर दे रहा है।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments

ए .के. पाण्डेय (जनसेवक )प्रदेश महा सचिव भारतीय प्रधान संगठन उत्तर भारप्रदेश पर महंत गणेश दास ने भाजपा समर्थकों पर अखंड भारत के नागरिकों को तोड़ने का लगाया आरोप