मंगलवार, जून 18, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमउत्तर प्रदेशफतेहपुरयूपी फतेहपुर ओमेगा हॉस्पिटल जहानाबाद कस्बा का दबंग संचालक अपने ही हॉस्पिटल...

यूपी फतेहपुर ओमेगा हॉस्पिटल जहानाबाद कस्बा का दबंग संचालक अपने ही हॉस्पिटल में ए-के 47 लेकर फोटो खींचता हुआ संचालक

सूत्रों द्वारा बताया गया कि एक सफेद पोश नेता के गुर्गों के संरक्षण में पॉलीक्लिनिक के आड़ में संचालित कराया जाता है नर्सिंग होम जहानाबाद कस्बे में खुली मौत बांटने की दुकान

फतेहपुर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने ईमानदारी से संचालक को पढ़ाया होता पाठ तो हॉस्पिटल के अंदर की असलाहे सहित ना वायरल होती फोटों

यदि की गईं निष्पक्ष जांच तो कई संगीन धाराओं पर दर्ज होगा संचालक पर मुकदमा और जाना पड़ेगा जेल की सलाखों के पीछे

अवैध ओमेगा हॉस्पिटल में रोगों के विशेषज्ञ चिकित्सक और ट्रेंड स्टाफ का है टोटा

क्योंकि फायर एनओसी समेत नहीं सुरक्षा के कोई पुख्ता इंतज़ाम रजिस्ट्रेशन पॉलीक्लिनिक का संचालित होता है अवैध ओमेगा हॉस्पिटल

जहानाबाद में संचालक प्रहरुप सचान धड़ल्ले से करता है अवैध ओमेगा हॉस्पिटल संचालित

श्रीराम अग्निहोत्री न्यूज़ समय तक ब्यूरो फतेहपुर

फतेहपुर। उत्तर प्रदेश फतेहपुर जनपद दम तोड़ती स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर हमेशा से चर्चा में रहा है, किंतु जैसे-जैसे जनपद का विकास होता गया वैसे-वैसे स्वास्थ्य सेवाओं के नाम पर दुकाने भी खोल दी गई। सबसे हैरत की बात तो यह है कि जब फतेहपुर जनपद को मेडिकल कॉलेज जैसी सौगात केंद्र की मोदी सरकार द्वारा प्रदान की जा चुकी है और फतेहपुर जनपद की स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए लाखों करोड़ों खर्च किए गए हैं। उसके बावजूद मरीजों का फतेहपुर शहर से लेकर जहानाबाद कस्बा विभिन्न कस्बो एवं ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित ज्यादातर अवैध एवं मानक विहीन हॉस्पिटलों में उपचार कराने का मोह भंग ना होना बड़ी कहानी बयां करता है। सूत्रों की माने तो इन सब के पीछे कहीं ना कहीं सफेद पोश मंत्री के गुर्गों द्वारा एवं स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों एवं कर्मचारियों की मिलीभगत शामिल है। अगर सिर्फ शहर की बात करें तो नउवाबाग से लेकर लोधीगंज इलाके तक कुकुरमुत्तो की तरह जगह-जगह खुले अवैध नर्सिंग होम यह बयान करता है कि संचालित होने वाले मानक विहीन हॉस्पिटलों के संचालकों की सेटिंग गेटिंग स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से है। आपको बताते चले की जहानाबाद कस्बा में ओमेगा हॉस्पिटल धड़ल्ले से संचालित किया जा रहा है। सूत्र बताते हैं पाली क्लीनिक का रजिस्ट्रेशन कराकर संचालित किया जाता है ओमेगा हॉस्पिटल इसके अलावा उक्त अस्पताल में विभिन्न रोगों से ग्रसित मरीज को भर्ती करने से लेकर विभिन्न रोगों के ऑपरेशन व उपचार की व्यवस्था होने का दावा किया जाता है। सूत्र तो यह भी बताते हैं कि इस हॉस्पिटल में मरीजों को पहुंचाने के लिए 24 घंटे एंबुलेंस की सुविधा भी मुहैया कराई जा रही है। जिससे यह साबित होता है कि यह पूरा खेल कहीं ना कहीं सफेद पोश मंत्री के गुर्गों द्वारा एवं सेहत महकमे के अधिकारियों को शामिल करके किया जा रहा है। सबसे अचंभित करने वाली बात तो यह है कि इस हॉस्पिटल का संचालक प्रहरुप सचान नाम के व्यक्ति द्वारा संचालित किया जा रहा है इनके पास सिर्फ फार्मासिस्ट की डिग्री हासिल है और ना ही इस हॉस्पिटल में ट्रेंड नर्स एवं वार्ड बॉय हैं। और दबंग संचालक अपने ही हॉस्पिटल में तीमारदार को डरने तथा अधिक रुपए लेने के लिए यह सब हरकत अस्पताल में की जाती है अब देखने वाली बात यह होगी कि जब अवैध ओमेगा हॉस्पिटल जहानाबाद कस्बा वासियों के बीच चर्चा का विषय बना है तो फिर स्वास्थ्य महकमा इस हॉस्पिटल के खिलाफ जल्द कार्यवाही करेगा नहीं तो मामला स्वास्थ्य मंत्री की चौखट पर पहुंचेगा !???

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments