बुधवार, अप्रैल 17, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमताजा खबरयूपी दिवस के अवसर पर 24 से 26 जनवरी, 2024 तक प्रदेश...

यूपी दिवस के अवसर पर 24 से 26 जनवरी, 2024 तक प्रदेश के समस्त जनपदों में आयोजित होंगे कार्यक्रम

न्यूज ऑफ़ इण्डिया (एजेंसी)

न्यूज़ समय तक दिनांक: 17 जनवरी, 2024

लखनऊ: मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र की अध्यक्षता में उत्तर प्रदेश दिवस-2024 के आयोजन के सम्बन्ध में वरिष्ठ अधिकारियों तथा सम्बन्धित जिलाधिकारियों की बैठक आहूत की गई।
अपने संबोधन में मुख्य सचिव ने कहा कि यूपी दिवस के अवसर पर दिनांक 24 से 26 जनवरी, 2024 तक सभी जनपदों में तीन दिवसीय कार्यक्रम आयोजित किए जाएं। इसी अवधि में तीन दिवसीय मुख्य कार्यक्रम लखनऊ, नोएडा एवं नई दिल्ली में प्रस्तावित किए गए हैं। इस वर्ष यूपी दिवस की थीम ‘उत्तर प्रदेश समृद्ध सांस्कृतिक विरासत’ है। सभी कार्यक्रमों का आयोजन भव्य हो। थीम के अनुरूप सभी कार्यक्रमों में प्रदेश की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत प्रदर्शित होनी चाहिए। कार्यक्रम की सभी तैयारियां समय से सुनिश्चित करा ली जाएं। आयोजन में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं रहनी चाहिये।
उन्होंने कार्यक्रम स्थल पर संग्रहालय निदेशालय एवं पुरातत्व विभाग को उत्तर प्रदेश की विरासत से सम्बन्धित अभिलेख प्रदर्शनी, राजकीय अभिलेखागार को उत्तर प्रदेश का इतिहास, ललित कला अकादमी को उ0प्र0 की विरासत पर आधारित चित्रकला शिविर एवं प्रदर्शनी, सूचना विभाग को उ0प्र0 सरकार की उपलब्धियों एवं योजनाओं पर आधारित प्रदर्शनी लगवाने के निर्देश दिये। इसके अलावा उन्होंने नवीन टेक्नोलॉजी एवं ए0आई0, अयोध्या की सांस्कृतिक विरासत एवं रामायण परम्परा, मिशन शक्ति, रक्षा सम्बन्धी उपकरणों, प्रदेश में टूरिज्म की संभावना, आधुनिक कृषि एवं जैविक उत्पादों पर आधारित प्रदर्शनी लगवाने के निर्देश दिये।
उन्होंने कहा कि विभागों के उल्लेखनीय कार्यों एवं उपलब्धियों को भी कार्यक्रम स्थल पर प्रदर्शित किया जाये। कार्यक्रम का सोशल मीडिया सहित विभिन्न प्रचार माध्यमों पर व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये। कार्यक्रम में एक जनपद एक उत्पादक के तहत प्रदर्शनी तथा ओडीओपी एवं विश्वकर्मा योजना के अन्तर्गत प्रशिक्षित लाभार्थियों को टूल किट का वितरण कराया जाये। इस अवसर पर कृषि विभाग द्वारा नवीन कृषि तकनीक पर आधारित विशेष सत्र का आयोजन कराया जाये। खेल विभाग द्वारा राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश का नाम रोशन करने वाले खिलाड़ियों को सम्मानित कराया जाये। युवा कल्याण विभाग द्वारा विवेकानन्द पुरास्कार एवं अन्य पुरस्कार का वितरण कराया जाये। समाज कल्याण विभाग द्वारा विभिन्न योजनाओं के साथ छात्रवृत्ति एवं पुरस्कारों का वितरण एवं जनजातीय उत्पादों की प्रदर्शनी लगवायी जाये।
उन्होंने कहा कि उद्योग विभाग द्वारा प्रदेश में निवेश करने वाले सूक्ष्म उद्यमियों का चयन कर उनको कार्यक्रम में सम्मानित कराया जाए। उन्होंने पर्यटन विभाग को बुन्देलखण्ड पर्यटन विकास पर आधारित सेमिनार आयोजित कराने तथा दीपोत्सव, देवदीपावली एवं उ0प्र0 पर्यटन का विकास विषयों पर लघु फिल्में दिखाने तथा फोटो प्रदर्शनी आयोजित कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सफलतम स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं, ग्राम पंचायतों के विकास हेतु उत्कृष्ट कार्य करने वाले प्रधानों को पुरुस्कृत व सम्मानित किया जाये। माध्यमिक एवं उच्च शिक्षा विभाग द्वारा उत्तर प्रदेश की संस्कृति एवं विकास पर आधारित सेमिनार एवं चित्रकला, निबन्ध, काव्य लेखन एवं काव्यपाठ प्रतियोगिताओं का आयोजन कराया जाये।
बैठक में अपर मुख्य सचिव कृषि डॉ0 देवेश चतुर्वेदी, प्रमुख सचिव खेलकूद एवं युवा कल्याण आलोक कुमार, प्रमुख सचिव पर्यटन एवं संस्कृति मुकेश कुमार मेश्राम, प्रमुख सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास श्री अनिल कुमार सागर, मण्डलायुक्त लखनऊ डॉ0 रोशन जैकब, पुलिस कमिश्नर लखनऊ एस0बी0 शिरोडकर, जिलाधिकारी लखनऊ सूर्यपाल गंगवार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण तथा सम्बन्धित जनपदों के वरिष्ठ अधिकारीगण वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments

ए .के. पाण्डेय (जनसेवक )प्रदेश महा सचिव भारतीय प्रधान संगठन उत्तर भारप्रदेश पर महंत गणेश दास ने भाजपा समर्थकों पर अखंड भारत के नागरिकों को तोड़ने का लगाया आरोप