मंगलवार, जून 18, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमKanpurमुख्य विकास अधिकारी ने पोषण पुनर्वास केंद्र का किया औचक निरीक्षण।

मुख्य विकास अधिकारी ने पोषण पुनर्वास केंद्र का किया औचक निरीक्षण।

न्यूज समय तक

मुख्य विकास अधिकारी ने पोषण पुनर्वास केंद्र का किया औचक निरीक्षण,दिए निर्देश।

खामियों का भण्डार देख मुख्य विकास अधिकारी का हुआ पारा गरम।

पोषण पुनर्वास केंद्र में बच्चों का हाल देख मुख्य विकास अधिकारी ने की कड़ी निंदा।

निरीक्षण के समय पोषण पुनर्वास केंद्र में बच्चों को नहीं दी जा रही है मूल भूत सुविधाएं।

फ़ूड डिमान्सट्रेटर द्वारा कार्यों के प्रति लापरवाही बरतने पर कठोर कार्यवाही किये जाने के दिए निर्देश।

कानपुर देहात मुख्य विकास अधिकारी सौम्या पाण्डेय द्वारा तहसील अकबरपुर के पोषण पुनर्वास केंद्र का निरीक्षण किया गया, निरीक्षण के समय मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा० खालिद रिजवान, फ़ूड डिमान्सट्रेटर सौरभ उपस्थित मिले। उन्होंने निरीक्षण में देखा कि केंद्र में बच्चों को भोजन,दूध इत्यादि समुचित तरीके से नहीं दिया जा रहा है जिससे बच्चों के स्वास्थ्य में शीघ्र सुधार नहीं पा रहा है उन्होंने केंद्र में बने रसोई को देखा जहाँ पर फ्रीज़ में खुला हुआ दूध एवं अन्य सामग्री अस्त व्यस्त मिली जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने फ़ूड डिमान्सट्रेटर सौरभ को कड़ी फटकार लगाते हुए कठोर चेतावनी दिए जाने के निर्देश दिए वहीं रसोइयाँ सत्येन्द्र यादव मौके पर अनुपस्थित मिले जिस कारण केंद्र में उपस्थित बच्चों को समय से भोजन नहीं मिल पाता है जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने रसोइयाँ सत्येन्द्र यादव पर कठोर कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिए वहीँ दिनांक 05 अप्रैल 2023 को केंद्र में आई बच्ची जिसका नाम सनाया है का नापा गया शरीर का भार निरंतर वही पाया जिससे ऐसा प्रतीत हो रहा है कि फ़ूड डिमान्सट्रेटर सौरभ द्वारा गलत तरीके से चार्ट में फीडिंग की जा रही है वहीँ डाटा फीडिंग का कार्य सम्पादित करने वाले कंप्यूटर आपरेटर भी मौके पर उपस्थित नहीं पाए गए उन्होंने कहा कि सम्बंधित का एक दिन का वेतन काटा जाए वहीँ फ़ूड डिमान्सट्रेटर सौरभ द्वारा पंजिका में ठीक हुए बच्चों का विवरण भी काफी समय से अंकित नहीं किया जा रहा है जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने इनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिए इसके पश्चात मुख्य विकास अधिकारी द्वारा मौके पर उपस्थित मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए गए कि केंद्र में उपस्थित बच्चों को उचित संसाधन उपलब्ध कराये जाए उनके खेलने, भोजन इत्यादि पर विशेष ध्यान दिया जाए इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए अन्यथा कार्यवाही किये जाने में किसी भी प्रकार की कोई कसर नहीं बरती जायेगी

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments