शनिवार, जून 15, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमताजा खबरउत्तर प्रदेशमुख्यमंत्री ने गोरखपुर में 06 करोड़ 47 लाख रु0 की 24 विकास...

मुख्यमंत्री ने गोरखपुर में 06 करोड़ 47 लाख रु0 की 24 विकास परियोजनाओं का किया लोकार्पण एवं शिलान्यास

न्यूज ऑफ़ इंडिया (एजेन्सी)

न्यूज़ समय तक लखनऊ: 06 जनवरी, 2024

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज जनपद गोरखपुर के मोहरीपुर संझाई में ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ कार्यक्रम में जनपद से सम्बन्धित 06 करोड़ 47 लाख रुपये की 24 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इन विकास परियोजनाओं में 03 करोड़ 61 लाख रुपये की 11 परियोजनाओं का लोकार्पण और 02 करोड़ 86 लाख रुपये की 13 परियोजनाओं का शिलान्यास शामिल है। ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पंचप्रण की शपथ दिलाई गयी। मुख्यमंत्री जी ने ‘मेरी कहानी मेरी जुबानी’ के अन्तर्गत विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद किया। उन्होंने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित किये। मुख्यमंत्री जी ने कार्यक्रम स्थल पर विभिन्न विभागों द्वारा लगाये गये स्टालों का अवलोकन, जरुरतमन्दों को कम्बल वितरण तथा बच्चों का अन्नप्राशन संस्कार भी किया।
मुख्यमंत्री ने आगामी खिचड़ी मेला एवं अयोध्या में श्रीराम मन्दिर निर्माण की बधाई देेते हुए कहा कि आज यहां पर ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ के साथ ही लगभग 06 करोड़ 47 लाख रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण/शिलान्यास हो रहा है। पहले लोगों को शौचालय, आवास, राशन, स्वास्थ्य, सड़क, बिजली के लिए परेशान होना पड़ता था। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में जब वर्ष 2014 में सरकार बनी, प्रधानमंत्री देश के 140 करोड़ लोगों को परिवार की तरह समझकर प्रतिबद्धता व ईमानदारी के साथ उनकी भलाई के लिए कार्य कर रहे हैं। परिणामस्वरूप देश की जनता उनके आह्वान पर सरकार को अपना आशीर्वाद प्रदान कर रही है।
प्रधानमंत्री ने देश की तस्वीर व तकदीर दोनों बदली है। दुनिया में भारत का सम्मान बढ़ा है और देश की सीमा सुरक्षित हुई है। भारत मंे आज वैश्विक स्तर की अवसंरचना, रेलवे, एयरपोट्र्स का निर्माण हो रहा है। एम्स, फर्टिलाइजर कारखाने बन रहे हैं। जनता की सुविधा के लिए प्रत्येक गांव को सड़क, पेयजल आदि से जोड़ने का कार्य हो रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि शासन की मंशा के अनुरूप बिना भेदभाव के सभी गरीबों को योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। आज उत्तर प्रदेश में 15 करोड़ गरीबों को राशन मिल रहा है। पहले गरीब स्वास्थ्य सुविधाओं के अभाव में दम तोड़ देता था। आज देश में 50 करोड़ व प्रदेश में 10 करोड़ लोगों को 05 लाख रुपये प्रतिवर्ष स्वास्थ्य बीमा कवर आयुष्मान भारत योजना के तहत मिल रहा है।
पहले गरीबों के पास आवास नहीं थे, झोपड़ी में वे जैसे-तैसे गुजर बसर करते थे। आज देश में 04 करोड़ व प्रदेश में 55 लाख गरीब परिवारों को आवास का लाभ मिल रहा है। पहले गरीबों के पास शौचालय नहीं थे तथा खुले में शौच से नारी गरिमा को हानि होती थी। आज देश में 12 करोड़ व प्रदेश में 03 करोड़ गरीबों के शौचालय बनवाएं गये हैं। पहले गरीब के घर में भोजन के लिए न ईधन न गैस सिलेण्डर, न केरोसीन, न कोयला था।
आज देश में 10 करोड़ व प्रदेश में 1.75 करोड़ गरीबों को निःशुल्क रसोई गैस कनेक्शन दिए गये हैं। प्रदेश सरकार ने होली व दीपावली में मुफ्त रसोई गैस सिलेण्डर रिफिल देने का कार्य शुरू किया है। यह सब कार्य गरीब की खुशहाली के लिए हो रहे हैं। नौजवानों को रोजगार प्राप्त हो सके, इसके लिए कार्य हो रहे हंै। गांव में लोगों को मकान का मालिकाना अधिकार देने के लिए स्वामित्व योजना, किसानों के लिए पी0एम0 किसान सम्मान निधि योजना संचालित है। इस तरह की अनेक योजनाएं चल रही हंै, जो गरीबों के जीवन में परिवर्तन का कारण बन रही हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस परिणाम के लिए हम एक संकल्प के साथ आगे बढ़ें कि वर्ष 2047 में भारत जब अपनी आजादी के शताब्दी महोत्सव मना रहा होगा, तो हम एक विकसित राष्ट्र के रूप में भारत को देख पायें। उस भारत में गरीबी, अशिक्षा, अव्यवस्था, असुरक्षा नहीं बल्कि उसमें दुनिया को नेतृत्व देने का सामथ्र्य व क्षमता होगी। हर नागरिक के चेहरे पर खुशहाली होगी। विकास की प्रक्रिया पूरी तरह संतृप्त होगी। एक ऐसा भारत होगा, जिस पर हर भारतीय गौरव की अनुभूति करेगा और दुनिया उसका अनुसरण करेगी। इन्ही संकल्पों को ध्यान में रखकर प्रधानमंत्री ने ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ को 15 नवम्बर, 2023 को शुरू किया था।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जिन लाभार्थियों को योजनाओं का लाभ मिला, वे आज इस मंच पर बोले हंै। जिन्हें योजनाओं का लाभ नहीं मिला, मंै उनके लिए प्रशासन से कहूंगा कि उन्हें भी योजनाओं को लाभ जल्द से जल्द प्राप्त कराया जाए। यह यात्रा जहां-जहां भी गुजरे, वहां जिन लोंगो को राशन कार्ड, आयुष्मान कार्ड, आवास आदि अन्य योजनाओं का लाभ नहीं मिला है, उन्हें वहीं व्यवस्था करके इन लाभों को उपलब्ध करायें। यदि प्रधानमंत्री आवास योजना में आवास नहीं मिलता है, तो मुख्यमंत्री आवास योजना में आवास दिलाने का कार्य करें।
यदि हम इन योजनाओं में सौ प्रतिशत संतृप्तिकरण की दिशा में कार्य करेंगे, तो जनता का आशीर्वाद सदा प्राप्त होगा और लोगों के विकास की गति में भी तेजी आयेगी। इस संकल्प यात्रा का लक्ष्य भी यही है। प्रधानमंत्री की गारण्टी की वैन आप के इस संकल्प को आगे बढ़ाने हेतु आयी है। इसे आगे भी बढ़ा रही है। आज यहां जिन लाभार्थियों ने अपने अनुभवों को बताने के साथ अन्य जो लाभों/सुविधाओं की बात कही है उन्हें भी आगे बढ़ाने का कार्य किया जायेगा।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि लोग इस संकल्प यात्रा का लाभ ले और विकास योजनाओं से जुड़ें। इस संझाई क्षेत्र में अब सी0सी0 मार्ग बन चुका है, जो विकास का मार्ग है। इस क्षेत्र को नगर निगम से भी जोड़ा गया है, ताकि यहां गरीबों को पक्का मकान, अच्छा सम्पर्क मार्ग, उचित जल निकासी, सेतु व बाढ़ बचाव की समुचित व्यवस्था प्राप्त हो सके। इससे यहां पर्यटन के विकास के साथ रोजगार का भी सृजन हो सकेगा। पहले गोरखपुर के लोग कल्पना नहीं कर सकते थे कि यहां फर्टिलाइजर कारखाना, 04-लेन सड़क, एम्स आदि की सुविधा मिलेगी। किन्तु डबल इंजन सरकार ने इन सपनों को साकार करने के साथ आने वालें संकल्पों को भी मूर्त रूप से आगे बढ़ाने का कार्य किया है।
इस अवसर पर सांसद रवि किशन शुक्ला एवं विधायक महेन्द्र पाल सिंह ने भी लोगों को सम्बोधित किया।
कार्यक्रम में जनप्रतिनिधिगण तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments