रविवार, जून 23, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमउत्तर प्रदेशफतेहपुरबेधड़क संचालित हैं अवैध बूचड़खाने और हो रही अवैध वसूली

बेधड़क संचालित हैं अवैध बूचड़खाने और हो रही अवैध वसूली

न्यूज समय तक

ललौली थानाध्यक्ष के कमाऊ पूतों के संरक्षण में संचालित किए जा रहे हैं अवैध बूचड़खाने और की जा रही है अवैध वसूली–सूत्र।

पंकज यादव की रीपोस्टिंग एवं सैनवाज की रीपोस्टिंग मेंं बेधड़क होकर अवैध वसूली,पुलिस अधीक्षक का भी नहीं है खौफ

श्रीराम अग्निहोत्री न्यूज समय तक ब्यूरो चीफ फतेहपुर)

फतेहपुर जनपद में पुलिस अधीक्षक के निर्देशों को दरकिनार करते हुए बेधड़क होकर अवैध वसूली का सिलसिला लगातार जारी है।जहां आपको बताते चलें कि विश्वसनीय सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक जनपद के थाना ललौली में तैनात सिपाही एवं थानाध्यक्ष के विशेष कमाऊपूत सैनवाज,नियाजुल,पंकज यादव,आशीष यादव थाना क्षेत्र के अंतर्गत कई अपराधिक घटनाओं को संरक्षण देते हुए अवैध वसूली कर रहे हैं।जहां प्राप्त जानकारी के मुताबिक पुलिस अधीक्षक के द्वारा पिछले महीने पहले नियाजुल का तबादला करते हुए डायल 112 में संबद्ध कर दिया गया था लेकिन सिपाही के द्वारा अपना ऐसा जुगाड लगाया गया कि वह डायल 112 में ड्यूटी ज्वाइन न कर थाना में ही रहकर ट्रकों से अवैध वसूली की जा रही है तथा इन्हीं सिपाहियों के संरक्षण में लगभग 4–5 अवैध बूचड़खाने भी संचालित किए जा रहे हैं, वहीं ग्रामीणों का कहना है कि इस बूचड़खाने के कारण आम जनता को कोई न कोई बीमारी से जूझना पड़ता है और इस रास्ते से निकलना भी मुश्किल होता जा रहा है, वहीं सूत्रों ने यह भी बताया कि इस थानाध्यक्ष के पहले जितने भी एसओ आए थे तो उन सबके कार्यकाल में ये बूचड़खाने बंद चल रहे थे लेकिन अवैध बूचड़खाने अब एक बार पुनः संचालित होने लगे हैं। वहीं सिपाही पंकज यादव का भी तबादला करते हुए कोतवाली बिंदकी में भेजा गया था जिस पर सूत्रों से जानकारी प्राप्त हुई है कि सिपाही पंकज यादव की रीपोस्टिंग एवं सैनवाज भी रीपोस्टिंग में ड्यूटी करते है।इतना ही नहीं सूत्रों ने यह भी जानकारी दिया है कि थाना ललौली के अंतर्गत जितने भी अवैध कार्य होते हैं उन सब में इन थानाध्यक्ष के विशेष कमाऊ पूतों का विशेष योगदान रहता है* लेकिन जिम्मेदार अधिकारियों को भनक तक नहीं ।?

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments