गुरूवार, जून 13, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमउत्तर प्रदेशफतेहपुरबकायेदार उपभोक्ताओं से बिल जमा कराने हेतु विद्युत विभाग ने खोज निकाला...

बकायेदार उपभोक्ताओं से बिल जमा कराने हेतु विद्युत विभाग ने खोज निकाला नया तरीका

कनेक्शन काटने के उपरांत अब डिस्ट्रीब्यूशन बॉक्स होंगे सील

डिस्ट्रीब्यूशन बॉक्स सील होने से दोबारा नहीं जुड़ सकेंगे संयोजन

डिस्ट्रीब्यूशन बॉक्स सील होने से बकायेदार उपभोक्ताओं में मचा हड़कंप

पहले कनेक्शन कटने के उपरांत बिना बकाया जमा किये किसी प्राइवेट कर्मचारी से जुड़वा लेते थे कनेक्शन

श्रीराम अग्निहोत्री न्यूज़ समय तक ब्यूरो फतेहपुर

बकायेदार उपभोक्ताओं से बिल जमा करवाने हेतु विद्युत विभाग रोज़ नए नए तरीके खोजता रहता है। जिसमें अब बकायेदार उपभोक्ताओं के संयोजन काटने के उपरांत डिस्ट्रीब्यूशन बॉक्स को सील कर दिया जाएगा। जिससे उपभोक्ता अब बकाए पर कटे संयोजन को बिना बिल जमा किये नहीं जुड़वा सकेंगे। सील टूटी पाए जाने पर भारतीय विद्युत अधिनियम 2003 के अंतर्गत एफआईआर की कार्यवाही की जाएगी।
ज्ञातत्व हो कि बकायेदार उपभोक्ताओं को विद्युत विभाग द्वारा पूर्व में कई बार कनेक्शन काटने, कई बार दिन रात फ़ोन कॉलिंग करने, डोर नोकिंग करने, प्रचार प्रसार करने, बकायेदार उपभोक्ता का नाम एवं राशि उसके घर के सामने एनाउंस करने एवं सरकार की महत्वकांक्षी एकमुश्त समाधान योजना के उपरांत भी यदि बकायेदार उपभोक्ताओं द्वारा बिल जमा नहीं किया जा रहा है। बकायेदार उपभोक्ताओं से बिल जमा कराने के लिए विद्युत विभाग रोज़ नए नए तरीके अपना रहा है।
उपखंड अधिकारी सदर एम एम सिद्दीकी की बकायेदार विद्युत उपभोक्ताओं से अपील
सरकार की इस महत्वकांक्षी एकमुश्त समाधान योजना में ब्याज माफ़ी के साथ बिल जमा करें। अपने आस पड़ोस रिश्तेदारों को भी योजना के बारे में बताएं। यदि बिल ख़राब है तो प्रार्थना पत्र, मीटर सीलिंग एवं संबंधित अवर अभियंता की साइट रिपोर्ट सहित उपखंड कार्यालय में दें। हम किसी भी उपभोक्ता का संयोजन काटने के इच्छुक नहीं है। परंतु अत्यधिक प्रयास फ़ोन कॉलिंग/एनाउंसमेंट/डोर नोकिंग/बिल के माध्यम से सूचना आदि देने के बाद भी बिल जमा नहीं होता है तो विद्युत विभाग संयोजन विच्छेदन कर आरसी के माध्यम से वसूली करने हेतु विवश होगा।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments