शुक्रवार, फ़रवरी 23, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमप्रयागराजजे के सीमेंट प्लांट में राखड़ उड़ाते हुए दौड़ रहे ओवरलोड भारी...

जे के सीमेंट प्लांट में राखड़ उड़ाते हुए दौड़ रहे ओवरलोड भारी वाहन

यातायात नियमों का सड़कों पर खुलेआम उल्लंघन हो रहा है

न्यूज़ समय तक
रिपोर्ट रमाकांत तिवारी

शंकरगढ़, प्रयागराज। जनपद के यमुनानगर शंकरगढ़ क्षेत्र अंतर्गत गाढ़ा कटरा हड़ही स्थित जेके सीमेंट प्लांट के गेट के सामने रोड पर भारी वाहनों का जमावड़ा बराबर देखा जा सकता है।सड़क दुर्घटनाओं को कम करने और लोगों को यातायात नियमों से जागरूक करने को सड़क सुरक्षा का कार्यक्रम चलाए जाते हैं पर कोई असर दिखता नजर नहीं आ रहा है। सड़कों पर चालक बेखौफ होकर ओवरलोड वाहनों को बिना किसी रोक-टोक के दौड़ रहे हैं। यातायात नियमों का सड़कों पर खुलेआम उल्लंघन हो रहा है नियम तोड़ने वालों पर कार्यवाही तो दूर धड़ल्ले से चल रहे ओवरलोड वाहनों को रोका तक नहीं जा रहा है। इन वाहनों की चेकिंग की जिम्मेदारी पुलिस, परिवहन ,खनन और वाणिज्य कर विभाग की है। लेकिन इन विभागों की लापरवाही के चलते दिन-रात ओवरलोड भारी वाहन बेखौफ गुजरते हैं। लगातार हो रही सड़क दुर्घटनाओं के बाद भी ओवरलोड भारी वाहन फर्राटे भरते नजर आते हैं। भारी वाहनों के खिलाफ इस मार्ग पर परिवहन विभाग के द्वारा कार्यवाही नहीं किए जाने से वाहन चालकों के हौसले बुलंद है।वहीं प्लांट के अंदर ओवरलोड राखड़ के भारी वाहनों के आवागमन से क्षेत्र में प्रदूषण बढ़ता जा रहा है लोग दमा ,खांसी, हैजा ,टीवी जैसे गंभीर बीमारियों के शिकार हो रहे हैं। सड़क मार्ग पर दिन भर धूल का गुब्बार उड़ता रहता है सड़क के आसपास रहने वाले बासिन्दों के लिए धूल परेशानी का सबब बनी हुई है।घरों और पेड़ों में मिट्टी की परत तक जम जाती है धूल से लोगों को सांस लेना तक मुश्किल हो रहा है इससे लोगों को बीमारियां होने का भय सता रहा है जिससे स्थानीय लोगों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। कड़ाके की सर्दी व कोहरे की धुंध से प्लांट के सामने खड़े आड़े तिरछे भारी वाहन राहगीरों के लिए मौत का दावत देते नजर आते हैं। ओवरलोड वाहनों की वजह से छोटे वाहनों को तो करीब 1 किलोमीटर तक साइड ही नहीं मिलती है। वाहन के ओवरलोड होने से चालक सड़क से नीचे नहीं उतारते जिससे अन्य वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ता है।बता दें कि अभी हाल ही में कुछ दिन पहले प्लांट के पास गांव जनवा के रिंकू सिंह का एक्सीडेंट हुआ था। सूत्र बताते हैं कि प्रबंधन एवं मैनेजर की लापरवाही से जेके सीमेंट प्लांट के अंदर काम कर रहे मजदूर भी बिना सेफ्टी के काम करते हैं कभी भी कोई बड़े हादसों से नकारा नहीं जा सकता है।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments

ए .के. पाण्डेय (जनसेवक )प्रदेश महा सचिव भारतीय प्रधान संगठन उत्तर भारप्रदेश पर महंत गणेश दास ने भाजपा समर्थकों पर अखंड भारत के नागरिकों को तोड़ने का लगाया आरोप