शनिवार, जून 15, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमKanpurजेएनयू छात्र संघ चुनावः लेफ्ट (वामपंथी) का दबदबा बरकरार, अध्यक्ष समेत चारों...

जेएनयू छात्र संघ चुनावः लेफ्ट (वामपंथी) का दबदबा बरकरार, अध्यक्ष समेत चारों पदों पर एबीवीपी की हार

जेएनयू छात्र संघ चुनावः लेफ्ट (वामपंथी) का दबदबा बरकरार, अध्यक्ष समेत चारों पदों पर एबीवीपी की हार

न्यूज़ समय तक कानपुर नई दिल्ली : जवाहर लाल यूनिवर्सिटी के छात्र संघ चुनाव में एक बार फिर वामपंथी छात्र संगठनों ने जीत हासिल की है.इस बार भी यह चुनाव वामपंथी संगठनों ने मिलकर लड़ा था. जेएनयू की इलेक्शन कमिटी के चेयरपर्सन शैलेंद्र कुमार के मुताबिक छात्र संघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर धनंजय, उपाध्यक्ष पद पर अविजीत घोष, महासचिव पद पर प्रियांशी आर्या और संयुक्त सचिव पद पर मोहम्मद साजिद को जीत मिली है.अध्यक्ष पद पर ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (आइसा) के धनंजय ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के उमेश चंद्र अजमीरा को हराया है.धनंजय को 2598 और उमेश चंद्र अजमीरा को 1676 वोट मिले हैं.वहीं दूसरी तरफ उपाध्यक्ष पद पर स्टूडेंट्स फ़ेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) के अविजीत घोष चुने गए हैं. उन्हें 2409 वोट मिले हैं, जबकि एबीवीपी की दीपिका शर्मा को 1482 वोट मिले हैं.महासचिव पद पर बिरसा आंबेडकर फुले स्टूडेंट्स एसोसिएशन (बाप्सा) की प्रियांशी आर्या ने जीत दर्ज की है. उन्हें लेफ्ट संगठनों का समर्थन हासिल था. उन्हें 2887 वोट मिले हैं, जबकि एबीवीपी के अर्जुन आनंद 1961 वोट ही हासिल कर पाए.इस पद पर लेफ्ट की तरफ से पहले स्वाति को उम्मीदवार बनाया गया था, लेकिन मतदान के कुछ घंटे पहले उनका नामांकन खारिज कर दिया गया था. उसके बाद लेफ्ट संगठनों ने बाप्सा की प्रियांशी आर्या को समर्थन दिया था.इसके अलावा संयुक्त सचिव पद पर इस बार ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फ़ेडरेशन (एआईएसएफ़) के मोहम्मद साजिद को जीत मिली है. उन्हें 2574 वोट मिले हैं. इस पद पर एबीवीपी के गोविंद दांगी को 2066 वोट मिले हैं.जेएनयू में पिछला छात्र संघ चुनाव साल 2019-20 में हुआ था, उसमें भी वामपंथी संगठनों ने ही जीत हासिल की थी.

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments