शनिवार, मई 25, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमउत्तर प्रदेशफतेहपुरजनपद फतेहपुर के विभिन्न खनन क्षेत्रों का किया गया औचक निरीक्षण ।

जनपद फतेहपुर के विभिन्न खनन क्षेत्रों का किया गया औचक निरीक्षण ।

न्यूज समय तक

अवैध खनन की सूचना प्राप्ति पर मंडला आयुक्त व पुलिस महा निरीक्षक ने किया आकस्मिक निरीक्षण।

प्रयागराज के तीन टीमों के आकस्मिक निरीक्षण किए जाने पर मिली खामियां।

अवैध खनन और परिवहन पर गिर सकती है कई अफसरों पर गाज।

प्रतिबंधित मशीनों से जलधारा से मोरंग निकालकर हो रही थी ओवर लोडिंग।

श्रीराम अग्निहोत्री न्यूज़ समय तक ब्यूरो चीफ फतेहपुर

फतेहपुर प्रयागराज मण्डल में अवैध खनन की प्राप्त शिकायतों के दृष्टिगत शासन द्वारा दिए गए निर्देशों एवं पूर्व में की गयी मण्डल स्तरीय समीक्षा बैठक के क्रम में मण्डलायुक्त, प्रयागराज एवं पुलिस महानिरीक्षक, प्रयागराज परिक्षेत्र के संयुक्त तत्वाधान में जनपद फतेहपुर के विभिन्न खनन क्षेत्रों का औचक निरीक्षण किया गया। इस कार्य हेतु मण्डलायुक्त द्वारा तीन समितियों का गठन किया गया। प्रथम समिति में मण्डलायुक्त प्रयागराज एवं पुलिस महानिरीक्षक, प्रयागराज परिक्षेत्र, द्वितीय समिति में अपर जिलाधिकारी (नजूल), प्रयागराज एवं तृतीय समिति में नगर मजिस्ट्रेट, प्रयागराज द्वारा औचक निरीक्षण किया गया।मण्डलायुक्त, प्रयागराज एवं पुलिस महानिरीक्षक, प्रयागराज परिक्षेत्र ने जनपद फतेहपुर के रामनगर कौहन के खण्ड सं0 आर-1 का निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय खनन स्थल पर खनन क्षेत्रों की निगरानी हेतु लगाये गये सी०सी०टीवी कैमरा बन्द पाये गये। इस संबंध में मौके पर उपस्थित व्यक्ति से कैमरे का फुटेज दिखाने को कहा गया तो उसने आनाकानी की तथा बिजली एवं अन्य कारण बताते हुए फुटेज दिखाने में असमर्थता जताई। इसके अतिरिक्त कैमरों को खनन स्थल से काफी दूर लगाया गया था।खनन स्थल पर लगाये गये पिलर से बाहर खनन होता पाया गया, जिससे प्रतीत होता है कि खनन चौहद्दी से बाहर भी किया जा रहा हैं जो कि अवैध है। साथ ही कई स्थानों पर ऐसा प्रतीत हो रहा था कि खनन जलधारा से भी किया जा रहा है। वाहनों के आने जाने वाले रास्ते में पानी का छिडकाव नहीं कराया गया था और न ही वाहनों को त्रिपाल से ढका गया है, जिसके कारण रास्ते में प्रदूषण फैल रहा था। रास्ते में खड़ी गाडियों के रवन्ना प्रपत्र एम0एम0-11 की जांच के दौरान कई गाडियों में पुरानी तिथि के खन्ने पाये गये तथा अधिकांश वाहन ओवर लोडेड पाये गये।इसी क्रम में अपर जिलाधिकारी (नजूल), प्रयागराज द्वारा ओती के खण्ड सं0-4 का सायंकाल लगभग 06.00 बजे निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान अधिकांश वाहन ओवर लोडेड पाये गये तथा इनकी गाडियों का नम्बर प्लेट भी स्पष्ट नहीं था। निरीक्षण के समय उपलब्ध ड्राइवर से पूछे जाने पर संतोषजनक उत्तर नहीं मिला। इससे स्पष्ट होता है कि गाड़ियों का नम्बर जानबूझकर खुरचा गया है। निरीक्षण के समय खनन स्थल पर खनन क्षेत्रों की निगरानी हेतु लगाये गये सी०सी० टीवी कैमरा बन्द पाये गये। खनन स्थल पर लगभग 15 ओवर लोडेड वाहन पाये गये तथा इन वाहनों में रवन्ना प्रपत्र एम0एम0 – 11 नहीं पाया गया, जिसके संबंध में नियमानुसार कार्यवाही हेतु संबंधित को निर्देश दिए गए।नगर मजिस्ट्रेट, प्रयागराज द्वारा अढ़ावल के खण्ड सं0-3, कम्पोजिट सं0-1 और 3 का निरीक्षण किया गया। सायंकाल लगभग 06.00 बजे निरीक्षण के समय यह पाया गया कि 03 पोकलैण्ड से ट्रकों पर बालू को लादा जा रहा था तथा एक दर्जन से अधिक गाडी ओवर लोडेड खड़ी थी, जिनके ड्राइवर भाग गये थे। संबंधित थाने से समन्वय स्थापित करते हुए उन सभी वाहनों के नम्बर नोट किए गए तथा उनके विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही के निर्देश दिए गए।उपरोक्त अनियमितताओं के दृष्टिगत मौके पर उपस्थित खनन अधिकारी को इसकी कल तक पैमाइस कराते हुए अख्या प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए है। साथ ही उपस्थित जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक, फतेहपुर को इस अनियमित कार्यवाही के लिए रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए कहा गया है। ओवर लोडेड वाहनों को देखते हुए प्रथम दृष्टया यह प्रतीत होता है कि इसमें सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी, जिला खनन अधिकारी एवं एसएचओ, असोथर की भूमिका संदिग्ध हैं और इनके द्वारा अपने दायित्वों का निर्वहन नहीं किया जा रहा है।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments

ए .के. पाण्डेय (जनसेवक )प्रदेश महा सचिव भारतीय प्रधान संगठन उत्तर भारप्रदेश पर महंत गणेश दास ने भाजपा समर्थकों पर अखंड भारत के नागरिकों को तोड़ने का लगाया आरोप