मंगलवार, मार्च 5, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमताजा खबरउत्तर प्रदेशग्राम चौपालों में 03 लाख 10हजार के अधिक प्रकरणों का किया गया...

ग्राम चौपालों में 03 लाख 10हजार के अधिक प्रकरणों का किया गया निस्तारण

न्यूज ऑफ़ इंडिया (एजेन्सी)

न्यूज़ समय तक लखनऊ: दिनांक: 30 दिसम्बर, 2023

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य द्वारा ग्राम चौपाल(गांव की समस्या-गांव में समाधान)कार्यकम की लोकप्रियता और उपयोगिता को देखते हुए ग्राम चौपालों की पहली वर्षगांठ को भव्यता पूर्ण ढंग से मनाया जाने के निर्देशों के क्रम में प्रदेश के समस्त जिलों में 28 से 30 दिसम्बर 2023 तक गांव-गरीब के विकास से रिलेटेड तीन दिवसीय कार्यकम आयोजित किए गये। 28 दिसम्बर ग्राम पंचायत, ब्लाक, तहसील, जनपद स्तर पर विशेष स्वच्छता अभियान चलाया गया। 29 दिसम्बर को को विशेष ग्राम चौपाल का आयोजन किया गया।और 30 दिसम्बर को जनपदों में जनप्रतिनिधियों/अधिकारियों द्वारा प्रेस कान्फ्रेंस सहित ग्रामोत्थान से सम्बंधित अन्य विविध कार्यक्रमो का आयोजन किया गया।उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि ग्राम्य विकास की योजनाओं का लाभ जन-जन को दिलाने के लिए सरकार संकल्पबद्धता व पूरी प्रतिबद्धता के साथ काम कर रही है। मौर्य ने बताया कि ग्राम चौपालों के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र में शिकायतों के निवारण हेतु सरकार का जनहित में एक बहुत सफल प्रयास रहा है। इस कार्यकम में ग्रामीणों में प्रशासन के प्रति विश्वास की भावना पैदा हुई है और उनकी स्थानीय स्तर की शिकायतें स्थानीय स्तर पर ही सुलझाने में मदद मिली है। कार्यकम की लोकप्रियता व प्रभाव को देखते हुए इसे बड़ा स्वरूप प्रदान किया जा रहा है और इसी कड़ी में ग्राम चौपालो की वर्षगांठ का आयोजन किया गया ।
ग्राम्य विकास विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार विशेष ग्राम चौपाल के प्रथम वर्षगांठ के उपलक्ष्य में ग्राम्य विकास विभाग द्वारा जनपदों मे मेले का आयोजन किया गया, जिसमे स्वयं सहायता समूह द्वारा निर्मित उत्पादों का स्टाल लगाकर प्रदर्शित भी किया गया। विशेष ग्राम चौपाल की शुरूआत ग्राम पंचायत में कराये गये कार्यों के निरीक्षण से की गयी, जिसमें मनरेगा के कार्य, मजदूरी भुगतान, महिला मेट, समूह की गतिविधियाँ यथा-समूह गठन, बी०ओ०, सी०एल०एफ०, बी०सी०सखी, विद्युत सखी, लखपति महिला, टी०एच०आर० प्लान्ट, प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री आवास, पंचायत विभाग द्वारा वित्त आयोग की धनराशि से कराये गये समस्त कार्य, ग्राम पंचायत में लगायी गयी लाइटों, सामुदायिक शौचालय, पंचायत भवन, जल निकासी नाली, सड़क/सम्पर्क मार्ग, गौ आश्रय स्थल, स्कूल भवन, स्कूल संचालन, एम०डी०एम०, सिंचाई व्यवस्था (नहर/ नलकूप), संचारी रोग, टीकाकरण, राशन वितरण, उज्ज्वला गैस कनेक्शन, हर घर नल से जल, आंगनवाडी एवं ए०एन०एम० सेन्टर का निरीक्षण, वृद्धा, विधवा एवं विकलांग पेंशन तथा छात्रवृत्ति का सत्यापन भी किया गया।
कार्यक्रम में आयुष्मान कार्ड, किसान सम्मान निधि, कृषि एवं कृषि रक्षा से जुड़े विषय, प्राकृतिक एवं आर्गेनिक खेती, हर घर नल से जल तथा सुशासन जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर अनिवार्य रूप से चर्चा की गयी।इसके अलावा प्रशंसनीय कार्य करने वाले जनप्रतिनिधियों/अधिकारियों/कर्मचारियों व ग्राम प्रधानों आदि को सम्मानित भी किया गया।
बताया गया कि प्रदेश मे अब तक लगभग 70 हजार ग्राम चौपालों का आयोजन किया जा चुका है। इन चौपालों में में 50 लाख से अधिक ग्रामवासियों मौजूद रहे। जिसमे 3 लाख ,10 हजार से अधिक समस्याओं/प्रकरणों का निस्तारण सम्बंधित अधिकारीयों द्वारा किया गया। जी० एस० प्रियदर्शी, आयुक्त, ग्राम्य विकास विभाग ने बताया कि दिसम्बर 2023 के अंतिम सप्ताह मे ग्रामीणों के लिए चलाये जा रहे ग्राम चौपाल (गांव की समस्या गांव मे समाधान) के इस महाअभियान का एक वर्ष पूरा हुआ। कार्यक्रम की लोकप्रियता और उपयोगिता को देखते हुए पहली वर्षगांठ को उप मुख्यमंत्री जी के निर्देशानुसार भव्यता पूर्ण ढंग से मनाया गया। इस अवसर पर प्रदेश भर में विशेष ग्राम चौपाल का आयोजन किया गया। वर्षगांठ के तहत कई आयोजन किये गये। सम्बन्धित सभी ग्राम पंचायतों में जनप्रतिनिधियों के साथ अधिकारियों ने ग्रामीणों की समस्याओं को सुना और उन्हें मौके पर ही गुणवत्तापूर्ण ढंग से निस्तारित भी किया।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments

ए .के. पाण्डेय (जनसेवक )प्रदेश महा सचिव भारतीय प्रधान संगठन उत्तर भारप्रदेश पर महंत गणेश दास ने भाजपा समर्थकों पर अखंड भारत के नागरिकों को तोड़ने का लगाया आरोप