गुरूवार, फ़रवरी 29, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमताजा खबरउत्तर प्रदेशखनन निदेशक माला श्रीवास्तव ने मुरादाबाद में खनन क्षेत्रों का किया निरीक्षण

खनन निदेशक माला श्रीवास्तव ने मुरादाबाद में खनन क्षेत्रों का किया निरीक्षण

न्यूज ऑफ इंडिया (एजेन्सी)

लखनऊ: 27 नवम्बर, 2023

निदेशक, भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग उत्तर प्रदेश माला श्रीवास्तव द्वारा रविवार को मुरादाबाद मण्डल एवं बरेली मण्डल के खनन अधिकारियों, तथा अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) मुरादाबाद सत्यम मिश्र पुलिस अधीक्षक (ट्रैफिक) मुरादाबाद, सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी (प्रवर्तन) एवं वन विभाग के अधिकारी सहित निदेशालय के अधिकारियों के साथ सर्किट हाउस मुरादाबाद में खनन से संबंधित प्रकरणों की समीक्षा की गयी। बैठक के दौरान उपखनिजों का बाजार मूल्य न्यूनतम रखने का निर्देश दिया गया जिससे आम आदमी को सस्ती दरों पर आसानी से खनिज उपलब्ध हो सकें। उन्होंने निर्देश दिए अवैध खनन व अवैध खनन परिवहन किसी भी दशा में नहीं होना चाहिए, इसके लिए सघन चेकिंग की जाय,और खनन/खनन परिवहन कार्यों पर पैनी नजर रखी जाय। किसी भी स्तर पर लापरवाही या हीलाहवाली क्षम्य नहीं होगी।

यह भी निर्देश दिये गये कि नये क्षेत्रों को चिन्हित कर जनहित में अधिक से अधिक क्षेत्रों को खनन परिहार पर नियंत्रित करने की कार्यवाही की जाये जिससे अवैध खनन व परिवहन की संभावना न हो तथा बाजार में खनिज की उपलब्धता बनी रहें। सीमावर्ती जनपदों/प्रान्तों से आने वाले खनिज वाहनों की सघन की जाये ,जिससें खनिजों की ओवरलोडिंग तथा अवैध परिवहन पर अंकुश लगाया जा सकें। खनन निदेशक द्वारा बैठक के दौरान कड़े निर्देश दिए गए कि ईंट भट्ठों से विनियमन शुल्क शीघ्र जमा कराया जाये।

खनन निदेशक माला श्रीवास्तव द्वारा निदेशालय के अधिकारियों के साथ जनपद मुरादाबाद में रामगंगा नदी तल स्थित मोरा ऐहतमाली सा० बालू क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान सम्बंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि पट्टा शर्तो का उल्लंघन किया जाता हुआ पाये जाने पर संबंधित पट्टा धारक के साथ-साथ सम्बंधित खनन अधिकारी के विरूद्ध भी कड़ी कार्यवाही की जायेगी

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments

ए .के. पाण्डेय (जनसेवक )प्रदेश महा सचिव भारतीय प्रधान संगठन उत्तर भारप्रदेश पर महंत गणेश दास ने भाजपा समर्थकों पर अखंड भारत के नागरिकों को तोड़ने का लगाया आरोप