बुधवार, मई 29, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमउत्तर प्रदेशफतेहपुरकृषि निर्यात को प्रोत्साहन हेतु समीक्षा बैठक।

कृषि निर्यात को प्रोत्साहन हेतु समीक्षा बैठक।

न्यूज समय तक

कृषि निर्यात को प्रोत्साहन हेतु जिलाधिकारी की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक हुई संपन्न।

श्रीराम अग्निहोत्री न्यूज समय तक ब्यूरो चीफ फतेहपुर)

फतेहपुर 25 अप्रैल 2023उत्तर प्रदेश कृषि निर्यात नीति 2019 के अन्तर्गत प्रगतिशील कृषकों एफ०पी०ओ० / निर्यातकों के क्षमता निर्माण एवं कृषि निर्यात को प्रोत्साहन हेतु कलेक्ट्रेट महात्मा गांधी सभागार में जिलाधिकारी श्रुति की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक संपन्न हुई। उन्होंने कहा किजिसमें एफ०पी०ओ० के गठन हेतु दियें गयें लक्ष्य के सापेक्ष कृषि जिन्स को चुनते हुए दोआबा क्षेत्र के अनुकूल गुणवत्तायुक्त कृषि उत्पाद के उत्पादन हेतु एफ०पी०ओ० गठन तत्काल कराया जाय। कृषि निर्यात नीति 2019 के अर्न्तगत जनपद कि चयनित कृषि जिन्स हरी सब्जियां आलू, केला, आंवला तथा हरी मिर्च के क्लस्टर विकसित करने हेतु एफ०पी०ओ० को प्रोत्साहित किया जाय। हिमांशु तिवारी, प्रभारी सदस्य सचिव, जिला क्लस्टर सुविधा इकाई फतेहपुर ने बताया कि निम्बस आर्गेनिक एफ०पी०सी० के द्वारा पूसा बासमती-1 के क्लस्टर का गठन कर लिया गया है।जिलाधिकारी ने कहा कि जिसकी भूमि सत्यापन का कार्य सम्बंधित उपजिलाधिकारी से जल्द से जल्द पूर्ण करा लें। साथ ही जनपद के खेत किसान एफ०पी०ओ० के गठित निर्यात क्लस्टर का फसल सत्यापन फसलोत्पादन के समय ही कराया जायें ताकि वास्तविक फसल क्षेत्रफल का समूचित सत्यापन हो सकें । जनपद के मसाला उत्पादक उद्यमी “सी०एस०के० मसाले” के द्वारा बताया गया कि इनके द्वारा गुणवत्तापूर्ण मसालों का उत्पादन एवं खाडी देशों को निर्यात किया जा रहा है जिसमें अधिक सहयोग के लिए जिला महाप्रबन्धक (नाबार्ड) उपनिदेशक कृषि एवं उपायुक्त (उद्योग एवं उद्यम ) को निर्देशित किया कि आपस समन्वय बनाकर नियमानुसार कार्यवाही करते हुए सहयोग किया जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि एफ०पी०ओ० के द्वारा कृषि निर्यात सम्पन्न करायें जाने हेतु कार्य में किसी भी प्रकार कि शिथिलता/लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। निम्बस आर्गेनिक एफ०पी०ओ० को कृषि निर्यात से सम्बन्धित अन्य आवश्यक प्रपत्र / लाईसेंस इत्यादि यथाशीघ्र पूर्ण कराने के लिए सम्बन्धितो को निर्देशित किया। भौगोलिक उपदर्शन के सम्बन्ध में कृत कार्यवाही करते हुए प्रगति रिपोर्ट से अवगत कराने के निर्देश सम्बन्धित को दिये। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि जनपद से चयनित जी०आई० हेतु उत्पाद मलवां का पेड़ा तथा जाहानाबाद की सूतफेनी के लिए किसी पंजीकृत खाद्य प्रसंस्कृत कमेंटी / एफ०पी०ओ० / उत्पादक समूह के माध्यम से आवेदन कराया जाना उचित होगा। कृषि उत्पादों के जी०आई० हेतु सम्भावित कृषि जिन्स रामराज धान की प्रजाति हेतु प्रोपराइटर के लिए कृषक समिति / एफ०पी०ओ० / आत्मा इत्यादि के माध्यम से आवेदन कराना उचित होगा।मनीष प्रताप सिंह प्रभारी कृषि विपणन निरीक्षक, बिन्दकी ने बताया कि प्रगतिशील कृषक निर्यातकों मिलर्स एफ०पी०ओ० को कृषि विपणन एवं कृषि विदेश व्यापार निदेशालय उ0प्र0 के द्वारा जारी किये जाने वालें सीधी खरीद लाईसेंस / मण्डी उपस्थल / निजी मण्डी स्थल के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी दिया और कहा कि एफ०पी०ओ० को कृषि निर्यात कराने के लिए सीधी खरीद लाईसेंस का होना आवश्यक हैं। इस अवसर पर उपनिदेशक कृषि राममिलन सिंह परिहार, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, अंजनीश प्रताप सिंह उपायुक्त उद्योग उद्यम, जी०सी०यादव सहायक निदेशक मत्यस्य , हिमांशु तिवारीसहायक कृषि विपणन निरीक्षक प्रा०ज्येष्ठ कृषि विपणन निरीक्षक, सालिक राम मण्ड सचिव फतेहपुर जनपद के निर्यातक फारूख अहमद, अनान्द गुप्ता, नितेश कुमार साहू , क्लस्टर सुविधा इकाई में नामित विभागों के प्रतिनिधि एफ०पी०ओ० के सदस्य आदि सदस्य उपस्थित रहें ।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments