मंगलवार, जून 18, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमउत्तर प्रदेशफतेहपुरकम वोल्टेज से जूझ रहा फफूंद कस्बा और दो सौ गांव।

कम वोल्टेज से जूझ रहा फफूंद कस्बा और दो सौ गांव।

न्यूज समय तक

कम वोल्टेज से जूझ रहा फफूंद कस्बा और दो सौ गांव

समर नही चल पाने से नही हो पा रही फसल की सिंचाई

रिपोर्ट – आकाश उर्फ अक्की भईया संवाददाता न्यूज समय तक

फफूंद,औरैया । क्षेत्र के गांव केशमपुर में बने 33 केवी विद्युत सब स्टेशन से विद्युत आपूर्ति पा रहे फफूंद कस्बा और डेढ़ सौ गांव के लोग कम वोल्टेज की समस्या से जूझ रहे हैं।कम वोल्टेज से गांव में लगीं समर नही चल पा रहीं है जिससे किसानों की फ़सल भी सूखने लगी हैं पंखे कूलर अपनी गति से नही चलने से लोगों का गर्मी से बुरा हाल है और पेयजल के लिए भी हैंडपम्प का सहारा लेना पड़ रहा है। फफूंद क्षेत्र के केशमपुर गांव में 33 केवी विद्युत सब स्टेशन बना हुआ है जहां बने पांच फीडरों पाता,जुआ,देवरपुर,टीकमपुर व फफूंद फीडर से दो सौ गांव और फफूंद कस्बे को बिजली आपूर्ति होती है दस दिनों से फफूंद कस्बे समेत गांव के लोग लो वोल्टेज की समस्या से जूझ रहे हैं।लो वोल्टेज से ग्रामीण इलाकों में सिंचाई के लिए लगी समर नही चल पा रही हैं जिससे किसानों की मूंग,उर्द,मूंगफली,मक्का व घुइया की फसल सूख रही है।
फफूंद कस्बे का हाल तो बहुत ही बुरा है यहां 90 से 100 वोल्टेज आ रहे हैं जिससे समर और टिल्लू पम्प नही चल रहे है लोग पेयजल के लिए हैंडपम्प का सहारा ले रहे हैं।घरों में रखे इलेक्ट्रॉनिक उपकरण फ्रिज,टीवी,इन्वर्टर,वाशिंग मशीन भी शो पीस बन गयी हैं।धनाढ्य लोग अपने घरों पर पांच से दस किलोवाट के स्टेपलाइजर लगाकर सुख पा रहे हैं जबकि गरीब औरथट आम आदमी कम वोल्टेज का दंश झेलता हुआ रातों को सो नही पा रहा है।

क्या बोले जिम्मेदार-

केशमपुर विधुत सब स्टेशन के अवर अभियंता ओमबीर सिंह ने बताया कि भीषण गर्मी की बजह से असेनी पावर हाउस से आने वाली 33 केवी लाइन से ही कम वोल्टेज आ रहे है इसकी बजह से 33 हजार को परिवर्तित कर 11 हजार वोल्टेज निकालने वाले सब स्टेशन के ट्रांसफार्मर से ही 8 हजार वोल्टेज निकल रहे हैं जिससे यह समस्या बनी है।बारिश हो तो वोल्टेज की दिक्कत खत्म हो जाएगी।

चपटा सब स्टेशन की भी बिजली जुड़ी है इसी लाइन से

दिबियापुर। असेनी पावर स्टेशन से केशमपुर सब स्टेशन आयी 33 केवी विद्युत लाइन पर चपटा सब स्टेशन का भी लोड रखा हुआ है।लगभग चार साल से इस सब स्टेशन के लिए अलग से लाइन नहीं बनी है और केशमपुर सब स्टेशन आयी विद्युत लाइन से ही इसे जोड़कर पावर स्टेशन चलाया जा रहा है।चपटा सब स्टेशन पर बने दो फीडरों हैदरपुर व महाराजपुर में सौ से ज्यादा गांव जुड़े हैं जहां बारिश या हल्की सी आंधी आते ही अक्सर होने वाले फाल्ट से केशमपुर सब स्टेशन भी बंद हो जाता है जिसके बाद चपटा सब स्टेशन की लाइन काटने के बाद ही केशमपुर की विद्युत आपूर्ति चालू हो पाती है।विद्युत उपभोक्ताओं का कहना है कि इस सब स्टेशन के लोड से भी कम वोल्टेज की दिक्कत बनी रहती है अधिकारी इस ओर ध्यान नही दे रहे है।

समर नही चल पाने से नही हो पा रही फसल की सिंचाई।

रिपोर्ट – आकाश उर्फ अक्की भईया संवाददाता न्यूज समय त फफूंद,औरैया । क्षेत्र के गांव केशमपुर में बने 33 केवी विद्युत सब स्टेशन से विद्युत आपूर्ति पा रहे फफूंद कस्बा और डेढ़ सौ गांव के लोग कम वोल्टेज की समस्या से जूझ रहे हैं।कम वोल्टेज से गांव में लगीं समर नही चल पा रहीं है जिससे किसानों की फ़सल भी सूखने लगी हैं पंखे कूलर अपनी गति से नही चलने से लोगों का गर्मी से बुरा हाल है और पेयजल के लिए भी हैंडपम्प का सहारा लेना पड़ रहा है। फफूंद क्षेत्र के केशमपुर गांव में 33 केवी विद्युत सब स्टेशन बना हुआ है जहां बने पांच फीडरों पाता,जुआ,देवरपुर,टीकमपुर व फफूंद फीडर से दो सौ गांव और फफूंद कस्बे को बिजली आपूर्ति होती है दस दिनों से फफूंद कस्बे समेत गांव के लोग लो वोल्टेज की समस्या से जूझ रहे हैं।लो वोल्टेज से ग्रामीण इलाकों में सिंचाई के लिए लगी समर नही चल पा रही हैं जिससे किसानों की मूंग,उर्द,मूंगफली,मक्का व घुइया की फसल सूख रही है।फफूंद कस्बे का हाल तो बहुत ही बुरा है यहां 90 से 100 वोल्टेज आ रहे हैं जिससे समर और टिल्लू पम्प नही चल रहे है लोग पेयजल के लिए हैंडपम्प का सहारा ले रहे हैं।घरों में रखे इलेक्ट्रॉनिक उपकरण फ्रिज,टीवी,इन्वर्टर,वाशिंग मशीन भी शो पीस बन गयी हैं।धनाढ्य लोग अपने घरों पर पांच से दस किलोवाट के स्टेपलाइजर लगाकर सुख पा रहे हैं जबकि गरीब और आम आदमी कम वोल्टेज का दंश झेलता हुआ रातों को सो नही पा रहा है।क्या बोले जिम्मेदार-केशमपुर विधुत सब स्टेशन के अवर अभियंता ओमबीर सिंह ने बताया कि भीषण गर्मी की बजह से असेनी पावर हाउस से आने वाली 33 केवी लाइन से ही कम वोल्टेज आ रहे है इसकी बजह से 33 हजार को परिवर्तित कर 11 हजार वोल्टेज निकालने वाले सब स्टेशन के ट्रांसफार्मर से ही 8 हजार वोल्टेज निकल रहे हैं जिससे यह समस्या बनी है।बारिश हो तो वोल्टेज की दिक्कत खत्म हो जाएगी।चपटा सब स्टेशन की भी बिजली जुड़ी है इसी लाइन सेदिबियापुर। असेनी पावर स्टेशन से केशमपुर सब स्टेशन आयी 33 केवी विद्युत लाइन पर चपटा सब स्टेशन का भी लोड रखा हुआ है।लगभग चार साल से इस सब स्टेशन के लिए अलग से लाइन नहीं बनी है और केशमपुर सब स्टेशन आयी विद्युत लाइन से ही इसे जोड़कर पावर स्टेशन चलाया जा रहा है।चपटा सब स्टेशन पर बने दो फीडरों हैदरपुर व महाराजपुर में सौ से ज्यादा गांव जुड़े हैं जहां बारिश या हल्की सी आंधी आते ही अक्सर होने वाले फाल्ट से केशमपुर सब स्टेशन भी बंद हो जाता है जिसके बाद चपटा सब स्टेशन की लाइन काटने के बाद ही केशमपुर की विद्युत आपूर्ति चालू हो पाती है।विद्युत उपभोक्ताओं का कहना है कि इस सब स्टेशन के लोड से भी कम वोल्टेज की दिक्कत बनी रहती है अधिकारी इस ओर ध्यान नही दे रहे है।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments