गुरूवार, जून 13, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमKanpurएक-साप्ताहिक हैंडस-ऑन वैल्यू एडेड कोर्स का सफल आयोजन छत्रपति शाहू जी महाराज...

एक-साप्ताहिक हैंडस-ऑन वैल्यू एडेड कोर्स का सफल आयोजन छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय

एक-साप्ताहिक हैंडस-ऑन वैल्यू एडेड कोर्स का सफल आयोजन छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय

विशेष संवाददाता विनय प्रकाश मिश्रा।कानपुर। नगर के शहर में माननीय कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक जी के मार्गदर्शन में कंप्यूटर एप्लीकेशन विभाग द्वारा “पाइथन प्रोग्रामिंग” पर एक-साप्ताहिक हैंडस-ऑन वैल्यू एडेड कोर्स का आयोजन किया गया। पाइथन प्रोग्रामिंग पर, यह वैल्यू एडेड कोर्स दिनांक 29 जनवरी 2024 को प्रारम्भ किया गया एवं 03 फरवरी 2024 को सफलता पूर्वक सम्पूर्ण कर दिया गया। इस साप्ताहिक वैल्यू एडेड कोर्स में, विश्वविद्यालय के सभी विभागों के छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया। प्रतिभागियों की संख्या ज्यादा होने से, इस वैल्यू एडेड कोर्स को दो चरणों में करने का विचार किया गया, प्रथम चरण में प्राथमिकता के आधार पर 75+ विद्यार्थियों को हैंडस-ऑन कोर्स कराया गया, जबकि द्वितीय चरण में शेष 75+ विद्यार्थियों को दिनांक 05 फरवरी से यह कोर्स कराया जायेगा। प्रथम चरण के वैल्यू एडेड कोर्स में, विभाग के शिक्षक श्री अभिषेक द्विवेदी और श्री अर्पित दुबे ने रिसोर्स पर्सन के रूप में कोर्स में कुछ सेशन लिये, जबकि विभाग के पूर्व छात्र, श्री अश्वनी शाक्य, जो कि वर्तमान में एक सर्टिफाइड ट्रेनर भी हैं, ने कोर्स में काफ़ी सेशन्स लिये। सभी रिसोर्स पर्सन्स ने पाइथन प्रोग्रामिंग के बेसिक्स बताते हुए, सभी छात्रों को यह भी बताया कि पाइथन में प्रोग्रामिंग कैसे की जाती है। सभी छात्रों को हैंडस-ऑन लैब एक्सरसाइज भी कराई गईं, जिससे कि उनमें प्रोग्रामिंग के प्रति कॉन्फिडेंस डेवलप हो सके। पाइथन लैंग्वेज का आज के समय में अलग-अलग आईटी कंपनियों में क्या अहम भूमिका है, इस पर भी विस्तार से चर्चा की गई। विभिन्न प्लेटफार्म पर पाइथन का क्या रोल है इस पर चर्चा करते हुए उन्होंने यह भी बताया कि किस तरह से पाइथन की उपयोगिता आज के डिजिटल युग में बढ़ रही है इस वैल्यू एडेड कोर्स के कोर्स-कोऑर्डिनेटर कंप्यूटर एप्लीकेशन विभाग के शिक्षक श्री अमित विरमानी और श्री रविकांत मिश्रा थे, जिन्होंने इस कोर्स को सफलता पूर्वक संपन्न कराया। इस वैल्यू एडेड कोर्स के कन्वेनर एवं विभागाध्यक्ष प्रो. रॉबिन्स पोरवाल ने बताया कि वर्तमान में इस तरह के कोर्सेज से दूसरे विभाग के छात्रों को एमर्जिंग टेक्नोलॉजी के बारे में जानकारी दी जाती है प्रथम चरण के कोर्स के समापन समारोह में माननीय प्रति-कुलपति प्रो. सुधीर कुमार अवस्थी जी एवं विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. अनिल कुमार यादव ने सभी प्रतिभागियों से कोर्स के बारे में विस्तृत फीडबैक लिया सभी को पाइथन प्रोग्रमिंग को अपनी आवश्यकतानुसार प्रयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया। समापन समारोह में सभी रजिस्टर्ड 75+ प्रतिभागियों को e-सर्टिफिकेट का वितरण उनके ईमेल पर माननीय प्रति-कुलपति एवं कुलसचिव द्वारा एक बटन के क्लिक से किया गया, जिससे सभी प्रतिभागियों को उनका e-सर्टिफिकेट तुरंत उनके ईमेल पर मिल गया, और इसका सत्यापन प्रतिभागियों द्वारा तुरंत उसी समय किया गया। प्रथम चरण के कोर्स का समापन, विभागाध्यक्ष प्रो. रॉबिन्स पोरवाल द्वारा आये हुए अतिथियों, रिसोर्स पर्सन एवं प्रतिभागियों को धन्यवाद ज्ञापन के साथ किया गया।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments