रविवार, जून 23, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमउन्नावआदेशों का पालन करते पालिका के सरकारी व अर्ध सरकारी कर्मचारी

आदेशों का पालन करते पालिका के सरकारी व अर्ध सरकारी कर्मचारी

*👉खबर उन्नाव जिले के गंगाघाट से है जहां नगर पालिका अध्यक्ष के आदेशों का पालन करते पालिका के सरकारी व अर्ध सरकारी कर्मचारी**👉आज शाम गंगाघाट नगर पालिका के कर्मचारियों की शर्मनाक हरकत देख कर सम्पूर्ण गंगाघाट आज शर्मशार हो उठा जिसके मुख्य कारण है।।**👉क्या पिछले कई दिनों से सुबह गंगाघाट पुल पर लगने वाले जाम का कारण भी यही सब्जी विक्रेता ही है।।क्या इस जाम का कारण नगर की जनता नही है।जो पुल पर रुक कर बिना किसी की तकलीफ सोचे अपनी अपनी गाडियां साइकिल पुल पर लगा सब्जी खरीदने लगते है।क्या सब्जियां पुल के पार नहीं मिलती??।।**👉और उससे भी बढ़कर जब सब्जी विक्रेता पुल के फुटपाट पर सब्जियां लगाते है।तब स्थानीय पुलिस और यातायात पुलिस क्या कर रही होती है।**👉और उससे भी बढ़कर एक और बात नगर पालिका गंगाघाट सिर्फ दिखावे और अपना पराया का अतिक्रमण करती है। जो पालिका के अधिकारी व पालिका अध्यक्ष के चरणो में गिरे होते है उनका कार्य सबसे पहले होता है।और उनका अतिक्रमण भी राजधानी मार्ग की सड़क से नही हटाया जाता**👉कोई अपना पेट परिवार और बच्चे पालने के लिए किसी भी हद तक जा सकता है।वो पुल पर क्या चांद पर भी सब्जी लगा सकता है।मेहनत कर रहा है कोई चोरी चाकरी नही।।मगर नगर पालिका के कर्मचारियों और अध्यक्ष की आंखों का पानी मर गया जिन्होंने अपने कर्मचारियों से इस कृत्य को करने की इजाजत दी**👉ये कर्मचारी ही नही इनको आदेश देने वाले भी उतने ही इस गरीब महिला और इसकी बददुआओ के जिम्मेदार है।जितना की ये लोग**👉आखिर गंगाघाट कोतवाली और नगर पालिका के वो कर्मचारी भी सुबह शाम नवीन गंगा पुल पर टहल कर अतिक्रमण हटवा सकते है।।जो पुलिस कर्मी दिन भर पोनी रोड तिराहे और पालिका कर्मचारी पालिका के बाहर बीड़ी फूकते नजर आते है। वह भी पुल पर टहल सकते है।।**👉नगर पालिका अंतर्गत जितने भी क्षेत्र आते है उन क्षेत्रों की अधिकांस जनता ने नगर पालिका अध्यक्ष को उस पद पर इसलिए नही बैठाया था। कि वो किसी गरीब सब्जी विक्रेता महिला पर अपने पालिका कर्मचारियों से अत्याचार करवाएं जब कि स्वयं नगर पालिका गंगाघाट की महिला अध्यक्षा जी मौजूदा हालात में है।**👉पुल पर जाम लगना अति अशोभनीय है।और जिसका सारा श्रेय शाम को लग रही सब्जी मंडी को जाता है।मगर क्या इस जाम का मुख्य कारण ये सब्जी विक्रेता है।।नही उस जाम का कारण सब्जी विक्रेता सहित सब्जी लगवाने वाली नगर पालिका के कर्मचारी,,यातायात दुरस्त न करने वाले चंद कदम पर खड़े पुलिस कर्मी,जाम लगवाने वाले वो राहगीर जो कही भी अपनी गाडियां साइकिल मोड़ देते है।और वो ई रिक्शा,टैंपो,बस जो कही भी खड़े होकर सावरिया भरने लगते है।।ये सभी जाम का मुख्य कारण है।।जब स्वयं सुधरेंगे तब सब सही होगा* *📝संवाददाता📝**🙏अश्वनी शेखर🙏*

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments