रविवार, मार्च 3, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमKanpurआज का पंचांग 20 अप्रैल 2023, गुरुवार : आचार्य विनोद दीक्षित।

आज का पंचांग 20 अप्रैल 2023, गुरुवार : आचार्य विनोद दीक्षित।

न्यूज समय तक

आज का पंचांग 20 अप्रैल 2023, गुरुवार:

राष्ट्रीय मिति चैत्र 30, शक संवत 1945, वैशाख, कृष्ण अमावस्या, बृहस्पतिवार, विक्रम संवत 2080।

सौर वैशाख मास प्रविष्टे 07। रमजान 28, हिजरी 1444 (मुस्लिम), तदनुसार अंग्रेजी तारीख 20 अप्रैल सन् 2023 ई०।

सूर्य उत्तरायण, उत्तर गोल, ग्रीष्म ऋतु।

राहुकाल 01 बजकर 30 मिनट से 03 बजे तक।

अमावस्या तिथि प्रातः 09 बजकर 43 मिनट तक उपरांत प्रतिपदा तिथि का आरंभ।

अश्विनी नक्षत्र रात्रि 11 बजकर 11 मिनट तक उपरांत भरणी नक्षत्र का आरंभ।

विष्कुंभ योग अपराह्न 01 बजे तक उपरांत प्रीति योग का आरंभ।

नाग करण प्रातः 09 बजकर 43 मिनट तक उपरांत बव करण का आरंभ।

चंद्रमा दिन रात मेष राशि पर संचार करेगा।

आज के व्रत त्योहार – वैशाख अमावस्या 2023, सूर्य ग्रहण 2023, ग्रीष्म ऋतु प्रारंभ।

सूर्योदय का समय 20 अप्रैल 2023 : सुबह 5 बजकर 50 मिनट पर।

सूर्यास्त का समय 20 अप्रैल 2023 : शाम 6 बजकर 49 मिनट पर।

आज का शुभ मुहूर्त 20 अप्रैल 2023 :

अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12 बजकर 12 मिनट से 1 बजकर 3 मिनट तक।

विजय मुहूर्त दोपहर 2 बजकर 44 मिनट से 3 बजकर 35 मिनट तक रहेगा।

निशीथ काल मध्‍यरात्रि 12 बजकर 15 मिनट से 1 बजे तक।

गोधूलि बेला शाम 6 बजकर 56 मिनट से शाम 7 बजकर 19 मिनट तक।

अमृत काल दोपहर 4 बजकर 11 मिनट से 5 बजकर 44 मिनट तक। सर्वार्थ सिद्धि योग सुबह 6 बजकर 18 मिनट से 11 बजकर 11 मिनट तक।

आज का अशुभ मुहूर्त 20 अप्रैल 2023 :

राहुकाल दोपहर 1 बजकर 30 मिनट से 3 बजे तक।

सुबह 6 बजे से 7 बजकर 30 मिनट तक यमगंड रहेगा।

सुबह 9 बजे से 10 बजकर 30 मिनट तक गुलिक काल रहेगा।

दुर्मुहूर्त काल सुबह 10 बजकर 31 मिनट से 11 बजकर 22 मिनट तक रहेगा इसके बाद दोपहर 3 बजकर 35 मिनट से 4 बजकर 25 मिनट तक।

आज का उपाय : आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें, गेहूं, जौ, चना का दान करें।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments

ए .के. पाण्डेय (जनसेवक )प्रदेश महा सचिव भारतीय प्रधान संगठन उत्तर भारप्रदेश पर महंत गणेश दास ने भाजपा समर्थकों पर अखंड भारत के नागरिकों को तोड़ने का लगाया आरोप