शनिवार, जून 15, 2024
spot_imgspot_imgspot_img
होमअनोखाअयोध्याअयोध्या के मतदाताओं ने दिया रहस्यमयी परिणाम, 55 हजार वोटों से भाजपा...

अयोध्या के मतदाताओं ने दिया रहस्यमयी परिणाम, 55 हजार वोटों से भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह को मिली शिकस्त

न्यूज़ समय तक अयोध्या:—-अयोध्या के मतदाताओं ने दिया रहस्यमयी परिणाम, 55 हजार वोटों से भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह को मिली शिकस्त

लोकसभा चुनाव 2024 कई मायनों में अन्य चुनाव से इस बार अलग रहा चुनावी शोर कम तो सन्नाटा अधिक रहा। जिसका सीधा खामियाजा भाजपा प्रत्याशी को उठाना पड़ा। भाजपा प्रत्याशी दो बार के लगातार सांसद लल्लू सिंह प्रतिद्वंद्वी इंडिया गठबंधन से सपा प्रत्याशी अवधेश प्रसाद से करीब 54547 वोटों से हार गए। अयोध्या में भाजपा की हार पूरे प्रदेश क्या पूरे देश में चर्चा का विषय बन गई है। कारण भी स्पष्ट है कि 500 वर्षों के लंबे संघर्ष के बाद जन्मभूमि पर भगवान श्रीराम का भव्य एवं दिव्य मंदिर बना जिससे एक विश्वास पनपा था कि लोकसभा चुनावों में बड़ा फायदा भाजपा को मिलेगा। लेकिन यहां के सांसद ही नहीं विधायक भी स्थानीय समस्याओं को नजरंदाज करते रहे। जिससे मतदाताओं में नाराजगी बढ़ती रही। 20 मई को छठे चरण में हुए मतदान में अपने मताधिकार से प्रकट कर दिया। 04 जून को जब चुनाव परिणाम आया तो भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह को 499002 जबकि सपा प्रत्याशी अवधेश प्रसाद के पक्ष में 553549 वहीं बसपा उम्मीदवार सच्चिदानंद के खाते में 46347 वोट तथा भाकपा प्रत्याशी अरविंद सेन को 15353 मत प्राप्त हुए। सीधा मुकाबले में सपा प्रत्याशी ने भाजपा के लल्लू सिंह को 54547 वोटों से शिकस्त देकर विजय का पताका लहराया है। फैजाबाद लोकसभा सीट की मतगणना कुल 29 राउंड में हुई। पहले पोस्टल बैलेट में 4951 मत प्राप्त हुए। पहले चार राउंड में भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह अधिकतम 500 वोटों से आगे थे लेकिन उसके बाद पांचवें राउंड में सपा के अवधेश प्रसाद 1535 वोटों से आगे निकले तो अंतिम तक बढ़त बरकरार रखी। यह बढ़त जनपद की चार विधानसभा क्षेत्रों अयोध्या, रुदौली,मिल्कीपुर, बीकापुर और बाराबंकी जनपद की दरियाबाद विधानसभा क्षेत्र में कायम रही। अंततः 54547 वोटों से भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह को पराजित कर इंडिया गठबंधन का पताका फहरा दिया।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments